पाकिस्‍तानी सेना और ISI की आलोचना करने पर पत्रकार की हत्या

पत्रकार पर इस्‍लामाबाद के G-9/4 एरिया में हमला किया गया. पुलिस ने कहा कि पाकिस्‍तानी ब्‍लॉगर और पत्रकार देश की सेना की आलोचना करने के लिए जाना जाता था.

News18.com
Updated: June 17, 2019, 4:34 PM IST
पाकिस्‍तानी सेना और ISI की आलोचना करने पर पत्रकार की हत्या
पाकिस्‍तानी ब्‍लॉगर और पत्रकार की चाकू से गोदकर हत्‍या कर दी गई है. (फाइल फोटो)
News18.com
Updated: June 17, 2019, 4:34 PM IST
पाकिस्‍तान की राजधानी इस्‍लामाबाद में रविवार रात एक 22 वर्षीय पाकिस्‍तानी ब्‍लॉगर और पत्रकार मोहम्‍मद बिलाल खान की चाकू से गोदकर हत्‍या कर दी गई है. ऐसा कहा जा रहा है कि मोहम्‍मद बिलाल खान लंबे समय से सेना का आलोचक था, इसलिए एक अज्ञात व्‍यक्ति ने उसकी हत्‍या कर दी.

पत्रकार पर इस्‍लामाबाद के G-9/4 एरिया में हमला किया गया. पुलिस ने कहा कि पाकिस्‍तानी ब्‍लॉगर और पत्रकार देश की सेना और आईएसआई की आलोचना करने के लिए जाना जाता था. पुलिस अधिकारियों के अनुसार, खान के ट्विटर पर 16,000 फॉलोअर्स, यूट्यूब चैलन पर 48,000 और फेसबुक पर 22,000 फॉलोअर्स हैं.

डॉन न्‍यूजपेपर ने पुलिस के हवाले से बताया कि मोहम्मद बिलाल खान अपने एक मित्र के साथ था. उसी दौरान एक फोन आया, जिसके बाद एक व्‍यक्ति उन्‍हें निकटवर्ती जंगल में ले गया. यह घटना रविवार रात की है.

पत्रकार की हत्‍या के लिए खंजर का इस्‍तेमाल किया गया था. मामले पर पुलिस अधीक्षक (एसपी) सदर मलिक नईम ने कहा कि कुछ लोगों ने गोली की आवाज भी सुनी. इस घटना में खान का दोस्‍त भी गंभीर रूप से घायल हो गया है.

मोहम्‍मद बिलाल खान की हत्‍या के बाद सोशल मीडिया पर #Justice4MuhammadBilalKhan नाम से अभियान चलाया जा रहा है. कई ट्विटर यूजर्स का कहना है कि आईएसआई और सेना के विरोध की वजह से पत्रकार की हत्‍या कर दी गई.

मोहम्‍मद बिलाल खान के पिता ने कहा कि उनके बेटे के शरीर में धारदार हथियार के निशान थे. उन्‍होंने कहा, 'मेरे बेटे का एकमात्र दोष था कि उसने नबी के बारे में बात की थी.' घटना से डर का माहौल पैदा हो गया है.

ये भी पढ़ें: LoC पर तनाव कम करने के लिए पाकिस्तान ने भारत को भेजा प्रस्ताव
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 17, 2019, 4:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...