• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • रूठा मॉनसून, UP के कई जिलों में सूखे के आसार

रूठा मॉनसून, UP के कई जिलों में सूखे के आसार

जून का महीना गुजर गया, लेकिन देश के बड़े हिस्से से बादल रूठा रहा। एक दो इलाके में बारिश हुई भी तो न के बराबर। उत्तर प्रदेश के 39 जिले सूखे के मुहाने पर हैं।

जून का महीना गुजर गया, लेकिन देश के बड़े हिस्से से बादल रूठा रहा। एक दो इलाके में बारिश हुई भी तो न के बराबर। उत्तर प्रदेश के 39 जिले सूखे के मुहाने पर हैं।

जून का महीना गुजर गया, लेकिन देश के बड़े हिस्से से बादल रूठा रहा। एक दो इलाके में बारिश हुई भी तो न के बराबर। उत्तर प्रदेश के 39 जिले सूखे के मुहाने पर हैं।

  • Share this:
    नई दिल्ली। जून का महीना गुजर गया, लेकिन देश के बड़े हिस्से से बादल रूठा रहा। एक दो इलाके में बारिश हुई भी तो न के बराबर। उत्तर प्रदेश के 39 जिले सूखे के मुहाने पर हैं। बुंदेलखंड में दाल की खेती बर्बाद हो चुकी है और खरीफ की फसल तो अभी तक बोई भी नहीं जा सकी है। किसान टकटकी लगाए आसमान की ओर देख रहे हैं, लेकिन बादलों का नामोनिशान नहीं दिख रहा।

    कर्ज से बेहाल किसान खौफजदा हैं, अगले कुछ दिनों में पानी नहीं बरसा तो बुंदेलखंड के किसान बदहाल हो जाएंगे। दालों के पौधे सूख चुके हैं, खरीफ की फसल का इंतजार कर रहे खेत नमी को मोहताज हैं। किसान बादलों की राह देख रहे हैं ताकि बारिश हो और बीज बोए जा सके।

    मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर प्रदेश के 39 जिले सूखे के कगार पर हैं, इसमें पूर्वांचल के 13 और पश्चिम और बुंदेलखंड के 26 जिले शामिल हैं। समूचे प्रदेश में करीब 51 से 96 फीसदी तक कम बारिश हुई है। बुंदेलखंड में ज्यादातर किसानों के लिए बारिश ही सिंचाई का एकमात्र जरिया है। बारिश न होने की वजह से बुंदेलखंड में सूखे का जबरदस्त खतरा मंडरा रहा है।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज