Home /News /nation /

यूपी-बिहार में बाढ़ का कहर, लाखों बेघर

यूपी-बिहार में बाढ़ का कहर, लाखों बेघर

बिहार में पिछले पांच दिनों से लागातार हो रही मूसलाधार बारिश की वजह से नदियों में उफान आ गया है। वहीं यूपी के 9 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं।

    नई दिल्ली। बिहार में पिछले पांच दिनों से लागातार हो रही मूसलाधार बारिश की वजह से नदियों में उफान आ गया है। जिससे आठ जिले बाढ से प्रभावित हुए हैं। यहां बाढ से लगभग दो सौ गांव डूब चुके हैं तो लगभग तीन लाख लोग बेघर हो गए हैं। वहीं मरने वालों की संख्या 12 पहुंच गई है। बाढ़ से बिगड़ते हालात के मद्देनजर इन आठ जिलो में 75 राहत शिविर चलाये जा रहे गैं और लोगों की मदद के लिए कई इलाकों में एनडीआरएफ की टीम भी तैनात कर दी गई है।

    यूपी के 9 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं। इनमें सबसे ज्यादा नुकसान बहराइच और श्रावस्ती में हुआ है। इसके अलावा लखीमपुर, सीतापुर और बलरामपुर में भी हालात ज्यादा खराब हैं। बहराइच में अब तक बाढ़ से 13 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 14 लोग लापता हैं। बहराइच और श्रावस्ती में अब तक 22 लोगों की बाढ़ से मौत हो चुकी है।


    बाढ़ से तबाही की ये तस्वीरें बहराइच जिले की हैं। घाघरा और सरयू नदी उफान पर हैं। यहां के 574 गांव बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। सड़कें कट गई हैं तो बहुत सारे पुल और पुलिया के उपर से पानी बह रहा है। बाढ़ से ढाई लाख की आबादी प्रभावित हुई है, 40 हजार से ज्यादा लोग बेघर हो गए हैं जबकि अभी भी हजारों लोग फंसे हैं। बाढ़ के पानी की वजह से लखनऊ-बहराइच मार्ग को बंद करना पड़ा है।

    बलरामपुर की तस्वीर भी ऐसी ही है। यहां भी बाढ़ ने काफी तबाही मचाई है। सौ से ज्यादा गांव ऐसे हैं जिनसे सम्पर्क नहीं हो पा रहा है। जिला मुख्यालय तीन ओर पानी से घिर चुका है। पीएसी की तीन फ्लड कंपनी और एनडीआरएफ की टीम भी पहुंच गई है। शहर के कई मोहल्लों में भी पानी भर चुका है।

    बिहार भी बेहाल

    बिहार में भी लगातार हो रही बारिश की वजह से नदियां उफान पर हैं। राज्य के कुल 13 जिलों में बाढ़ से करीब 5.8 लाख लोग प्रभावित हैं। बाढ़ प्रभावित जिलों की बात करें तो नालंदा, नवादा, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, सीतामढ़ी, सहरसा, गोपालगंज, सुपौल, पटना, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण और शेखपुरा में बाढ़ का असर है।

    बिहार के नालंदा जिले के बिहारशरीफ दनियावा एनएच 30 का नजारा भी अलग नहीं है। यहां छोटी गाड़ियों की आवाजाही पर रोक लग गई है। आलम यह है कि थोड़ी बारिश और हुई तो ये इलाका शहर से पूरी तरह से कट जाएगा।

    मुजफ्फरपुर में बरूबारी गांव में नदी का बांध टूट जाने से तीन गांव पानी पानी हो गए हैं। उधर गंडक में अचानक उफान की वजह से गोपालगंज जिले के निचले इलाकों के चालीस गांव जलमग्न हो गए हैं। नरकटियागंज सिकटा रेलखण्ड पर पानी आ जाने की वजह से रेल परिचालन रोकना पड़ा है। बिहार के बाढ़ प्रभावित इलाकों में 75 राहत कैंप चलाए जा रहे हैं। अबतक करीब 38 हजार लोगों को सुरक्षित जगहों पर लाया गया है। कुल 12 एनडीआरएफ की टीम राहत के काम में लगी है।





    Tags: गोपालगंज, मुजफ्फरनगर

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर