कई कीर्तिमान गढ़ने के बाद राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, 32 बिल हुए पास

राज्यसभा का 249वां सत्र बुधवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया. इस सत्र में राज्यसभा में 32 और लोकसभा में 36 विधेयकों को पारित किया गया.

भाषा
Updated: August 7, 2019, 1:05 PM IST
कई कीर्तिमान गढ़ने के बाद राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, 32 बिल हुए पास
राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित
भाषा
Updated: August 7, 2019, 1:05 PM IST
राज्यसभा का 249वां सत्र बुधवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया. इस सत्र के दौरान तीन तलाक विधेयक और जम्मू-कश्मीर के अनुच्छेद 370 सहित कई महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित किया गया. इस सत्र में राज्यसभा में 32 और लोकसभा में 36 विधेयकों को पारित किया गया. उच्च सदन में आज आखिरी दिन जलियावाला बाग राष्ट्रीय स्मारक बिल को वापस ले लिया गया.

इससे पहले कार्यवाही शुरू होने से पहले सदन में मौन रखकर पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी. सभापति एम वेंकैया नायडू ने उच्च सदन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने से पहले अपने पारपंरिक संबोधन में कहा कि पिछले 14 साल में सबसे अधिक विधायी कामकाज तथा सबसे अधिक बैठकें इस सत्र में हुईं. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सदन में मौजूद थे.

राज्यसभा में 32 बिल हुए पारित
सत्रहवीं लोकसभा के लिए चुनाव के बाद राज्यसभा का यह पहला सत्र था और इस दौरान 2019-20 का आम बजट, राष्ट्रपति अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव, तीन तलाक संबंधी विधेयक, आरटीआई कानून में संशोधन संबंधी विधेयक, अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराओं को समाप्त करने संबंधी संकल्प, जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक समेत कुल 32 विधेयक पारित किए गए.

नए सदस्यों ने ली शपथ
सत्र के दौरान जहां कई नए सदस्यों ने उच्च सदन की सदस्यता की शपथ ली. वहीं, सपा और कांग्रेस के कई सदस्यों ने इस्तीफा भी दिया. इन सदस्यों में सपा के नीरज शेखर, संजय सेठ और सुरेंद्र नागर तथा कांग्रेस के संजय सिंह और भुवनेश्वर कालिता शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- सुषमा के निधन पर UNGA अध्यक्ष ने जताया शोक, कहा- मैं हमेशा उन्हें याद रखूंगी
First published: August 7, 2019, 1:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...