देश के मददगार: मिशन ऑक्सीजन के तहत क्राउड फंडिंग, 250 उद्यमियों ने कोरोना से जंग के लिए जुटाए 32 करोड़ रुपये

“मिशन ऑक्सीजन” के तहत इनकी इस पहल में अब देश की बड़ी बड़ी शख़्सियतें भी जुड़ने लगी है.

“मिशन ऑक्सीजन” के तहत इनकी इस पहल में अब देश की बड़ी बड़ी शख़्सियतें भी जुड़ने लगी है.

Donation For Coronavirus: डेमोक्रेसी पीपल फ़ाउंडेशन के ट्रस्टी वरुण अग्रवाल का कहना है कि क्राउड फंडिंग के जरिए 'मिशन ऑक्सीजन' के तहत करीब 6000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों को और एनजीओ को दिए जाएंगे.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की दूसरी लहर (Coronavirus Second wave) से सारे देश में हाहाकार मचा हुआ है. कहीं पर ऑक्सीजन की कमी देखी जा रही हैं, तो कहीं से दवाइयों की किल्लत की खबर आ रही है. अस्पतालों में सभी बेड फुल हैं, कोरोना से संक्रमित मरीज ऑक्सीजन न मिलने के कारण सड़क पर ही दम तोड़ रहे हैं. बिगड़ते हालातों के बीच राजधानी दिल्ली के ढाई सौ इंटरप्रेन्योर मदद के लिए आगे आए हैं. इन्होंने मिशन ऑक्सीजन कैंपेन चलाकर साढ़े बत्तीस करोड़ का फंड क्राउड फंडिंग के जरिए जुटाया है.

डेमोक्रेसी पीपल फाउंडेशन के ट्रस्टी वरुण अग्रवाल का कहना है कि क्राउड फंडिंग के जरिए 'मिशन ऑक्सीजन' के तहत करीब 6000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों को और एनजीओ को दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि जिन अस्पतालों और एनजीओ को ये ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिए जाएंगे उनकी लिस्टिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

चीन से भारत मंगवाए गए 950 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

अग्रवाल के अनुसार अभी तक 950 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर चीन से भारत आ चुके हैं और आगे आने वाले दिनों में बाकी ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी भारत पहुंच जाएंगे. इन्होंने एक ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट भी डोनेट किया है, जो दिल्ली के दीनदयाल अस्पताल में लगाया जाएगा.
कई नामचीन हस्तियां भी मिशन के तहत जुटीं

“मिशन ऑक्सीजन” के तहत इनकी इस पहल में अब देश की बड़ी-बड़ी शख़्सियतें भी जुड़ने लगी हैं. क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने इस फंडिंग में 1 करोड़ रुपये का डोनेशन दिया तो वहीं अभिषेक बच्चन से लेकर कई और सेलिब्रेटीज भी इनसे जुड़ रही हैं.




इस मिशन का उद्देश्य है कि ज़्यादा से ज़्यादा लोगों से जुड़कर कोरोना पीड़ितों के लिए फंड जुटाकर उनको ऑक्सीजन उपलब्ध करवाना. ताकि वक्त रहते लोगों के जीवन को बचाया जा सके. आंकड़ों के अनुसार, क्राउड फंडिंग के जरिए अब तक 33 हज़ार लोगों से साढ़े बत्तीस करोड़ रुपये का फंड इस मिशन के लिए जुटाया जा चुका है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज