जूलियो रिबेरो के खिलाफ 26 पूर्व IPS अधिकारियों ने लिखी चिट्ठी, कहा-वह एंटी इंडिया लोगों का साथ दे रहे

हाल ही में दिल्ली पुलिस ने दिल्ली दंगों की चार्जशीट दायर की है. (फाइल फोटो)
हाल ही में दिल्ली पुलिस ने दिल्ली दंगों की चार्जशीट दायर की है. (फाइल फोटो)

दरअसल जुलियो रिबेरो (Julio Ribeiro) सहित 9 पूर्व IPS अधिकारियों ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर एस. एन. श्रीवास्तव को चिट्ठी लिखकर दंगों (Delhi Riots) की जांच पर सवाल उठाए थे. अब 26 पूर्व आईपीएस अधिकारियों ने इसकी निंदा की है

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2020, 8:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली दंगों (Delhi Riots) की चार्जशीट (Charge sheet) को लेकर बवाल मचा हुआ है. देश के पुलिस विभाग में शीर्षष्थ पदों पर काम कर चुके 26 पूर्व IPS अधिकारियों ने इसे लेकर एक स्टेटमेंट जारी किया है. इन अधिकारियों का कहना है कि कानून के काम करने का एक तरीका होता है और जांच के दौरान पुलिस को जिस पर शक हो, उससे पूछताछ की जा सकती है. इन अधिकारियों ने देश के नामी IPS अधिकारी रहे जुलियो रिबेरो (Julio Ribeiro) के बयान की भी निंदा की है. दरअसल जुलियो रिबेरो सहित 9 पूर्व IPS अधिकारियों ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर एस. एन. श्रीवास्तव को चिट्ठी लिखकर दंगों की जांच पर सवाल उठाए थे.

चिट्ठी में जुलियो रिबेरो ने क्या लिखा
चिट्ठी में रिबेरो ने कहा है कि दिल्ली पुलिस शांति से प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ तो कार्रवाई कर रही है लेकिन हिंसा भड़काने के लिए जिम्मेदार हेट स्पीच देने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है. उनके इस बयान की अब 26 पूर्व आईपीएस अधिकारियों ने निंदा की है. अधिकारियों ने कहा है कि रिबेरो 'भारत तेरे टुकड़े होंगे कहने वाले उमर खालिद की तरफदारी कर रहे हैं. अधिकारियों ने रिबेरो पर निशाना भी साधा है. स्टेटमेंट में कहा गया है कि खुद रिबेरो ने सिख चरमपंथ को समाप्त करने के लिए 'बुलेट फॉर बुलेट' के मंत्र पर काम किया था.

जुलियो रिबेरो की पूर्व अधिकारियों ने की निंदा
पूर्व अधिकारियों का कहना है कि वो पुलिस की छवि खराब करने वाले किसी भी कृत्य की निंदा करते हैं. कहा गया है कि पुलिस मामले कीं जांच करती है और शक के आधार पर लोगों की गिरफ्तारी करती है. ऐसे किसी भी व्यक्ति के पास अंतरिम या रेगुलर बेल की न्यायिक प्रक्रिया का रास्ता हमेशा खुला रहता है. दिन-रात अपनी ड्यूटी में लगे पुलिसकर्मियों की छवि खराब करने के प्रयासों की हम निंदा करते हैं.



15 हजार पन्नों की चार्जशीट
गौरतलब है कि दिल्ली दंगों में पुलिस की तरफ से 15 हजार से ज्यादा पन्नों की चार्जशीट दायर की गई है. इसमें आप के निष्कासित पार्षद ताहिर हुसैन 15 को आरोपी बनाया गया है. पुलिस अभी सप्लीमेंटरी चार्जशीट भी दायर करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज