Home /News /nation /

2जी मामला : सबूतों के अभाव में ए. राजा, कनिमोझी समेत 17 बरी

2जी मामला : सबूतों के अभाव में ए. राजा, कनिमोझी समेत 17 बरी

(Network18 creative)

(Network18 creative)

इस पर भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने टू जी मामले में कहा कि आरोपियों को बरी किए जाने के फैसले के खिलाफ सरकार को तुरंत दिल्ली उच्च न्यायालय में अपील करना चाहिए

  • News18.com
  • Last Updated :
    पूर्व दूरसंचार मंत्री और द्रमुक नेता ए. राजा, उनकी पार्टी की नेता और राज्यसभा सदस्य कनिमोझी को टू जी स्पेक्ट्रम आवंटन मामला घोटाले में सीबीआई की विशेष अदालत ने बरी कर दिया. मामले में 15 अन्य आरोपी और तीन कंपनियों को भी बरी किया गया है.

    2जी फैसले को सरकार हाईकोर्ट में चुनौती दे : सुब्रमण्यम स्वामी
    इस पर भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने टू जी मामले में कहा कि आरोपियों को बरी किए जाने के फैसले के खिलाफ सरकार को तुरंत दिल्ली उच्च न्यायालय में अपील करना चाहिए. सुब्रमण्यम स्वामी उन याचिकाकर्ताओं में शामिल हैं, जिनकी याचिका पर टू जी मामले में सीबीआई जांच के आदेश दिए गए थे.

    स्वामी ने ट्वीट कर तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयलिलता के आय से अधिक मामले का हवाला दिया जिसमें जयललिता और उनकी निकट सहयोगी शशिकला को कर्नाटक उच्च न्यायालय ने बरी कर दिया था, लेकिन उच्चतम न्यायालय ने उस फैसले को पलट दिया.

    2जी फैसले को अपनी शान न समझे कांग्रेस :अरुण जेटली
    मामले पर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कांग्रेस को 2 जी स्पेक्ट्रम मामले में फैसले को अपनी शान नहीं समझना चाहिए. कांग्रेस पार्टी की कोई भी नुकसान न होने वाली जीरो लॉस थ्योरी उसी समय गलत साबित हो गई थी, जब उच्चतम न्यायालय ने वर्ष 2012 में स्पेक्ट्रम आवंटन रद्द कर दिया था.

    जेटली ने कहा कि निचली अदालत के फैसले में हालांकि कहा गया है कि कोई भी भ्रष्टाचार का दोषी नहीं पाया गया. लेकिन जांच एजेंसियां मामले का व्यापक अध्ययन और इस पर विचार करेंगी.

    2जी मामला यूपीए के खिलाफ सबसे बड़ा दुष्प्रचार : मनमोहन सिंह
    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अदालत के फैसले के बाद कहा कि अदालत द्वारा सभी आरोपियों को बरी करने का फैसले से सिद्ध होता है कि यह बिना किसी आधार के यूपीए के खिलाफ सबसे बड़ा दुष्प्रचार था.


    2जी मामले में मनमोहन, संप्रग का रुख सही साबित हुआ : सिब्बल
    कांग्रेस नेता और वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा कि, 2जी स्पेक्ट्रम पर कांग्रेस के नेतृत्व वाली तत्कालीन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सही साबित हुए हैं कि, स्पेक्ट्रम के आवंटन और दूरसंचार कंपनियों को दिए गए लाइसेंस में कोई घोटाला नहीं हुआ था.

    सिब्बल ने तत्कालीन नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) विनोद राय से माफी की भी मांग की, जिन्होंने अपनी दूरसंचार ऑडिट रिपोर्ट में कहा था कि, 2जी स्पेक्ट्रम लाइसेंस को कौड़ियों के भाव आवंटित करने के लिए राजस्व को 1.76 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ. कांग्रेस नेता ने कहा कि राय को देश से माफी मांगनी चाहिए. उनकी और भाजपा की वजह से आज दूरसंचार उद्योग बुरी हालत में है.

    सिब्बल ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से भी माफी मांगने को कहा है, जिसने तत्कालीन संप्रग सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा, मैंने लोगों से कहा था कि कुछ गलत नहीं हुआ और आज मैं, तत्कालीन सरकार व पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सही साबित हुए.

    मैं अदालत के फैसले से खुश हूं : ए. राजा
    पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा ने सभी आरोपियों को बरी किए जाने के फैसले पर खुशी जताते हुए इसका स्वागत करते हुए कहा कि वो अदालत के फैसले से खुश हैं.

    (इनपुट भाषा, आईएनएस से)

     

    Tags: 2G scam

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर