अपना शहर चुनें

States

देश में अब तक 3 लाख 81 हजार लोगों को लगा टीका, साइड इफेक्ट के 580 केस आए सामने

देश में 16 जनवरी से टीकाकरण की शुरुआत हुई है (फाइल फोटो)
देश में 16 जनवरी से टीकाकरण की शुरुआत हुई है (फाइल फोटो)

Coronavirus Vaccination: स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया कि देश में अब तक टीकाकरण के बाद प्रतिकूल घटनाओं के 580 मामले सामने आए हैं जिसमें से 7 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 8:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में 16 जनवरी से शुरू हुए कोविड-19 टीकाकरण अभियान (Covid-19 Vaccination Program) के तहत अब तक 3 लाख 81 हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) लगाई जा चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि देश में अब तक कुल 3 लाख 81 हजार 305 लोगों को कोरोना वायरस का टीका लगाया जा चुका है. इनमें से 1 लाख 48 हजार 266 लोगों को सोमवार को शाम पांच बजे तक टीका लगाया गया. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोविड-19 वैक्सीन दिए जाने के बाद उत्तर प्रदेश और कर्नाटक में दो लोगों की मौत के मामले सामने आए हैं.

मंत्रालय ने कहा कि उत्तर प्रदेश में रहने वाले व्यक्ति की मौत टीकाकरण से नहीं हुई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है. वहीं कर्नाटक के रहने वाले व्यक्ति का पोस्टमार्टम आज किया जाएगा. मंत्रालय की ओर से बताया गया कि उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के रहने वाले व्यक्ति को 16 जनवरी को टीका लगाया गया था और उसकी मृत्यु 17 जनवरी को हुई. तीन डॉक्टरों के बोर्ड द्वारा किए गए पोस्टमार्टम में पता चला है कि इस शख्स की मृत्यु ह्रदय और फेफड़ों से संबंधित रोग के चलते हुई. इसका वैक्सीन से संबंध नहीं है. इसके अलावा कर्नाटक के रहने वाले एक शख्स को 16 जनवरी को टीका लगाया गया था और इस शख्स की मृत्यु 18 जनवरी को हुई.

ये भी पढ़ें- अरुणाचल में चीनी गांव बसाने की खबरों पर बोला MEA-सीमा पर बनी हैं हमारी निगाहें



राज्यों में इतने लोगों को लगाए गए टीके
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि सोमवार को आंध्र प्रदेश में 9,758,अरुणाचल प्रदेश में 1,054, असम में 1,872, बिहार में 8,656, छत्तीसगढ़ में 4,459, दिल्ली में 3,111, हरियाणा में 3446, हिमाचल प्रदेश में 2,914, जम्मू-कश्मीर में 1,139, झारखंड में 2,687, कनार्टक में 36,888 लोगों को टीका लगाया गया.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया कि देश में अब तक टीकाकरण के बाद प्रतिकूल घटनाओं के 580 मामले सामने आए हैं जिसमें से 7 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है.

रविवार को 17 हजार से ज्यादा लोगों को लगाई गई थी वैक्सीन
इससे पहले रविवार को आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, मणिपुर और तमिलनाडु में 553 सत्र में 17,072 लोगों का टीकाकरण किया गया. शनिवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान की शुरुआत पर अस्पताल के एक सफाईकर्मी मनीष कुमार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की उपस्थिति में कोविड​​-19 का पहला टीका लगाया गया. इसके साथ ही मनीष देश की राजधानी में टीका लगवाने वाले पहले शख्स बन गए.

ये भी पढ़ें- मुरादाबादः कोरोना वैक्सीन से नहीं हार्ट अटैक से हुई थी वार्ड बॉय की मौत

देश में टीकाकरण अभियान शुरू होने के पहले दिन स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ एम्स दिल्ली के निदेशक रणदीप गुलेरिया, नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल, भाजपा सांसद महेश शर्मा और पश्चिम बंगाल के मंत्री निर्मल माजी उन लोगों में शामिल रहे जिन्हें टीके की पहली खुराक दी गई. पॉल कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए चिकित्सा उपकरण एवं प्रबंधन को लेकर गठित अधिकार समूह के प्रमुख भी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज