• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • रेपिस्ट बोला, चुप रहती तो बच जाती निर्भया

रेपिस्ट बोला, चुप रहती तो बच जाती निर्भया

देश की बहादुर बेटी निर्भया के गुनहगार ने एक बार फिर मुंह खोला है और इस बार के खुलासे में आरोपी ने बलात्कार के लिए लड़कियों को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है।

  • Share this:
    नई दिल्ली। देश की बहादुर बेटी निर्भया के गुनहगार ने एक बार फिर मुंह खोला है और इस बार के खुलासे में आरोपी ने बलात्कार के लिए लड़कियों को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है। बीबीसी की एक टीम ने भारत में महिलाओं की हालत और पुरुषों के नजरिए को लेकर एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म बनाई है। इस फिल्म के दौरान इंटरव्यू में तिहाड़ जेल में फांसी की सजा का इंतजार कर रहे मुकेश नाम के दरिंदे से इंटरव्यू लिया।

    जिस बस में निर्भया का गैंगरेप हुआ, उसका ड्राइवर ये शख्स यानी मुकेश उन पांच दरिंदों में से एक है, जिसने बहादुर बेटी के साथ गैंगरेप की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। इस वारदात के बाद बीबीसी ने भारत में महिलाओं की हालत जानने और महिलाओं को लेकर पुरुषों का नजरिया जानने के लिए एक फिल्म बनाने की ठानी और इस मकसद से बीबीसी की टीम देश की सबसे बड़ी जेल तिहाड़ पहुंच गई।

    तिहाड़ जेल में हुई इस बातचीत में आरोपी अंदर का राक्षस सामने आ गया। आरोपी के मुताबिक जब रेप हो रहा था, तब उसे प्रतिरोध नहीं करना चाहिए था। उसे (निर्भया) उस वक्त चुप रहना चाहिए था और हम जो कर रहे थे वो करने देना चाहिए था। अगर ऐसे होता तो हम निर्भया को कहीं पर छोड़ देते।

    यकीनन मुकेश का ये जवाब सन्न कर देने वाले हैं जिस शख्स को कोर्ट से फांसी की सजा मिली हो, उसे अपने किए पर अब भी पछतावा नहीं। आखिर किस मिट्टी का बना है ये दरिंदा? आखिर महिलाओं को लेकर कैसी सोच है इसकी? इस सोच के लिए कौन है जिम्मेदार? मुमकिन है कि मुकेश के जवाब आपके दिमाग को झनझना दे।

    लेकिन फिलहाल सरकार तिहाड़ जेल के अंदर मुकेश के इंटरव्यू को लेकर सख्त नजर आ रही है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस मामले में तिहाड़ प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। जेल में गैंगरेप के दोषी मुकेश का इंटरव्यू कैसे हुआ, इस पर डीजी तिहाड़ से जवाब तलब किया गया है। हालांकि फिल्म बनाने वाली टीम का दावा है कि उन्होंने संबंधित महकमों से बाकायदा इसकी इजाजत ली थी।

    बड़ा सवाल ये नहीं है कि मुकेश का इंटरव्यू कैसे हुआ? सवाल ये है कि पुरुषों की ऐसी मानसिकता क्यों है और इसे कैसे बदला जा सकता है? क्या बलात्कार को लेकर सख्त कानून से ही सबकुछ संभव है? इस बीच दिल्ली पुलिस कमिश्नर बी एस बस्सी ने मीडिया से अपील की है कि निर्भया के मुजरिम मुकेश पर बनी डॉक्यूमेंट्री को ना दिखाया जाए। उन्होंने कहा कि इस मामले में केस दर्ज किया जा चुका है और डॉक्यूमेंट्री के प्रसारण को रोकने के लिए कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया जाएगा।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज