Home /News /nation /

जम्मू-कश्मीर में मौजूद हैं 38 पाकिस्तानी आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों के पास लिस्ट तैयार, चुन-चुन कर ठिकाने लगाने की तैयारी

जम्मू-कश्मीर में मौजूद हैं 38 पाकिस्तानी आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों के पास लिस्ट तैयार, चुन-चुन कर ठिकाने लगाने की तैयारी

कश्मीर में बड़ी तैयारी कर रही हैं सुरक्षा एजेंसियां. (सांकेतिक तस्वीर)

कश्मीर में बड़ी तैयारी कर रही हैं सुरक्षा एजेंसियां. (सांकेतिक तस्वीर)

Security Forces Planning encounter of Pakistani terrorists: खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीर में इस वक्त 38 पाकिस्तानी आतंकी मौजूद हैं. इनमें 27 लश्कर के और 11 जैश के आतंकी हैं. सूत्रों के मुताबिक ये आतंकी घाटी में अलग-अलग जगहों पर छुपे हो सकते हैं. वहीं से ये वारदातों को अंजाम भी दे रहे हैं. सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक 4 आतंकी श्रीनगर, 3 कुलगाम, 10 पुलवामा, 10 बारामूला में और 11 आतंकी कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में छुपे हो सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में पाकिस्तान (Pakistan) खांति में खलल डालने के सभी प्रयास कर रहा है. यही कारण है कि अब सुरक्षा एजेंसियों (Security Agencies) ने उन पाकिस्तानी आतंकियों की लिस्ट तैयार कर ली है जो घाटी में मौजूद हैं. ये आतंकी कश्मीर घाटी में युवाओं को बरगलाकर अपने संगठनों में शामिल करने में जुटे हैं. ये आतंकी युवाओं का माइंड वॉश कर सुरक्षाबलों और आम लोगों की हत्या करने में जुटे हुए हैं. लेकिन अब सुरक्षा बलों ने लिस्ट तैयार कर इनके खिलाफ बड़े एक्शन की तैयारी कर ली है.

खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीर में इस वक्त 38 पाकिस्तानी आतंकी मौजूद हैं. इनमें 27 लश्कर के और 11 जैश के आतंकी हैं. सूत्रों के मुताबिक ये आतंकी घाटी में अलग-अलग जगहों पर छुपे हो सकते हैं. वहीं से ये वारदातों को अंजाम भी दे रहे हैं. सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक 4 आतंकी श्रीनगर, 3 कुलगाम, 10 पुलवामा, 10 बारामूला में और 11 आतंकी कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में छुपे हो सकते हैं.

आतंकियों का ढूंढ-ढूंढ कर एंकाउंटर करने की तैयारी
अब इन आतंकियों का ढूंढ-ढूंढ कर एंकाउंटर करने की तैयारी है. सूत्रों के मुताबिक आतंकवादी कश्मीर में डर और अविश्वास का माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. खास बात ये है कि पाकिस्तान चाहता है कि कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद वाले हालात तैयार हो जाएं. पिछले वर्षों के आंकड़ों पर गौर करें तो घाटी में युवाओं को आतंकी संगठनों में भर्ती करने के प्रयास बढ़े हैं. लेकिन सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह से अलर्ट हैं और अपनी प्लानिंग के तहत कार्रवाई को अंजाम देने में जुटी हैं.

पाकिस्तान लगातार अपनी रणनीति में कर रहा है बदलाव
दरअसल कश्मीर को अशांत करने के लिए पाकिस्तान लगातार अपनी रणनीति में बदलाव कर रहा है. पहले एके-47, आईईडी और हैंड ग्रेनेड के हमले से सुरक्षाबलों को निशाना बनाया जाता था लेकिनअब पिस्टल से टार्गेट किलिंग की घटनाएं हो रही हैं. पाकिस्तान के निशाने पर सिर्फ सुरक्षाबल ही नहीं बल्कि प्रवासी भारतीय भी हैं जो कश्मीर में छोटे-मोटे रोजगार कर अपनी आजीविका चलाते हैं.

Tags: Jammu and kashmir, Kashmir Terror activity, LG Manoj Sinha

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर