नए मोटर वाहन अधिनियम लागू होने के पहले दिन दिल्ली में 3,900 चालान कटे

परिवहन मंत्री (Transportation Minister) कैलाश गहलोत ने कहा कि दिल्ली सरकार (Delhi Government) मोटर वाहन संशोधन अधिनियम को लागू करने के संबंध में अधिसूचना जारी करने से पहले यातायात पुलिस समेत अन्य साझेदारों के साथ राय-मशविरा करेगी.

भाषा
Updated: September 2, 2019, 8:20 AM IST
नए मोटर वाहन अधिनियम लागू होने के पहले दिन दिल्ली में 3,900 चालान कटे
नए मोटर वाहन अधिनियम लागू होने के पहले दिन दिल्ली में 3,900 चालान कटे.
भाषा
Updated: September 2, 2019, 8:20 AM IST
दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने महानगर में संशोधित मोटर वाहन अधिनियम के रविवार को प्रभावी होने के बाद ट्रैफिक नियमों (Traffic Rules) का उल्लंघन करने के लिए 3,900 चालान जारी किए. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. संसद ने मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक, 2019 को जुलाई में पारित किया था. इसमें सड़क यातायात नियमों जैसे ड्राइविंग लाइसेंस जारी करना और उल्लंघनों के लिए सख्त जुर्माने लगाने आदि की बात कही गई थी. ये विधेयक सड़क सुरक्षा को सुधारने के प्रयासों के तहत लाया गया था.

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने क्या कहा

यातायात पुलिस द्वारा साझा किए गए आंकड़े के मुताबिक उसने रविवार को 3,900 चालान काटे. परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि दिल्ली सरकार मोटर वाहन संशोधन अधिनियम को लागू करने के संबंध में अधिसूचना जारी करने से पहले यातायात पुलिस समेत अन्य साझेदारों के साथ राय-मशविरा करेगी. गहलोत ने एक बयान में कहा, "कई सालों के अंतर के बाद अधिनियम के तहत भारी जुर्माने निर्धारित किए गए हैं, तो इससे जुड़ी अधिसूचना यातायात पुलिस और अन्य साझेदारों के साथ गंभीर विचार-विमर्श करने के बाद जारी की जाएगी."

मोटर वाहन अधिनियम की धारा 200

मोटर वाहन अधिनियम की धारा 200 दिल्ली सरकार को कुछ निश्चित अपराधों को एक साथ मिलाने संबंधी गजट अधिसूचना जारी करने को अधिकृत करती है. नए नियम के तहत हेलमेट नहीं पहनने या सीट बेल्ट नहीं लगाने वालों पर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा जो कि पहले 100 रुपये था जबकि बिना ड्राइविंग लाइसेंस के गाड़ी चलाने वालों पर 5,000 रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है या तीन महीने की जेल हो सकती है.

ये भी पढ़ें-
जब पाकिस्तान के इस बड़े नेता ने गाया 'सारे जहां से अच्छा'
Loading...

NRC पर इमरान का भारत पर निशाना, कश्मीर पर दिया मजहबी बयान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 2, 2019, 8:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...