लाइव टीवी

प्रदूषण का डर: 40 फीसदी लोग छोड़ना चाहते हैं दिल्‍ली-NCR

भाषा
Updated: November 3, 2019, 5:25 PM IST
प्रदूषण का डर: 40 फीसदी लोग छोड़ना चाहते हैं दिल्‍ली-NCR
दिल्ली के राजपथ का मंजर

दिल्ली में शुक्रवार को जन स्वास्थ्य इमरजेंसी घोषित कर दी थी जिसके बाद राज्य सरकार ने स्कूल बंद करने के आदेश दिए थे. ईपीसीए ने दिल्ली-एनसीआर में पांच नवंबर तक निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. एक नए सर्वे के अनुसार वायु प्रदूषण (Air Pollution) के चलते दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) के चालीस प्रतिशत से अधिक निवासी शहर छोड़ कर कहीं और बसना चाहते हैं जबकि सोलह प्रतिशत निवासियों ने इस दौरान शहर से बाहर घूमने की इच्छा प्रकट की.दिल्ली और एनसीआर के सत्रह हजार निवासियों पर किए गए सर्वेक्षण में ये सामने आया कि तेरह प्रतिशत लोग ये मानते हैं कि उनके पास प्रदूषण को झेलने के अलावा और कोई चारा नहीं है.

दिल्ली से तौबा-तौबा
ऑनलाइन संस्था ‘लोकल सर्कल’ द्वारा किए गए सर्वेक्षण में पाया गया कि चालीस प्रतिशत लोग दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र छोड़कर कहीं और बसना चाहते हैं जबकि 31 प्रतिशत निवासी यहीं रहकर प्रदूषण से बचाव के उपाय (मास्क,पौधे इत्यादि) अपनाना चाहते हैं. सर्वेक्षण में पाया गया कि सोलह प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे स्थायी तौर पर दिल्ली में ही निवास करेंगे लेकिन प्रदूषण अधिक होने के दौरान कहीं बाहर घूमना चाहेंगे. जबकि तेरह प्रतिशत लोगों का मानना है कि उनके पास प्रदूषण को झेलने के अलावा कोई चारा नहीं है.

हॉस्पिटल जाने को मजबूर

निवासियों से पूछे जाने पर तेरह प्रतिशत लोगों ने कहा कि उनके परिवार के एक या एक से अधिक सदस्य अस्पताल गया था जबकि 29 प्रतिशत लोगों की प्रतिक्रिया थी कि उन्होंने डॉक्टर को दिखाया है. सर्वेक्षण के अनुसार 44 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उन्हें स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हैं लेकिन उन्होंने किसी डॉक्टर या अस्पताल में जांच नहीं करवाई है.

दिल्ली की ज़हरीली हवा
केवल चौदह प्रतिशत निवासियों का मानना है कि प्रदूषण से उनकी सेहत पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है. रविवार की सुबह हल्की बारिश होने के बावजूद दिल्ली में वायु गुणवत्ता का स्तर ‘गंभीर’ रहा. पर्यावरण प्रदूषण (निवारण एवं नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) ने दिल्ली में शुक्रवार को जन स्वास्थ्य इमरजेंसी घोषित कर दी थी जिसके बाद राज्य सरकार ने स्कूल बंद करने के आदेश दिए थे. ईपीसीए ने दिल्ली-एनसीआर में पांच नवंबर तक निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी है. वाहनों को लेकर दिल्ली सरकार की सम विषम योजना सोमवार से लागू होगी.
Loading...

ये भी पढ़ें:
ट्रेन से चोर ने चुराया 2 करोड़ का वायलिन, फिर सही सलामत कर गया वापस

संजय राउत का दावा- शिवसेना के पास 170 विधायकों का समर्थन, हमारा ही होगा CM

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 2:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...