• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • PM मोदी ने कहा- भारत में गांव प्रधान हो या देश का प्रधानमंत्री कोई भी नियमों से ऊपर नहीं, पढ़ें 5 खास बातें

PM मोदी ने कहा- भारत में गांव प्रधान हो या देश का प्रधानमंत्री कोई भी नियमों से ऊपर नहीं, पढ़ें 5 खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे राम मंदिर का भूमि पूजन (File Photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे राम मंदिर का भूमि पूजन (File Photo)

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अपने संबोधन में इस बार पर जोर दिया कि अनलॉक (Unlock) के कारण देश में सावधानियों को लेकर बरती जा रही लापरवाही नुकसानदेह साबित हो सकती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मंगलवार को देश के नाम संबोधन दिया जिसमें उन्होंने लोगों से अधिक सतर्कता बरतने की अपील की. इसके साथ ही साथ पीएम मोदी ने पीएम गरीब कल्याण योजना (PM Gareeb Kalyan Yojana) को नवंबर तक बढ़ाने की घोषणा की और वन नेशन वन राशन कार्ड (One Nation One Ration Card) जैसी अहम योजना को लेकर भी लोगों को जानकारी दी. पीएम ने अपने संबोधन में इस बात पर जोर दिया कि अनलॉक (Unlock) के कारण देश में सावधानियों को लेकर बरती जा रही लापरवाही नुकसानदेह साबित हो सकती है. पढ़ें पीएम मोदी के संबोधन की पांच खास बातें-

    >> पीएम मोदी ने कहा कि जब से देश में  Unlock-One हुआ है, व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही भी बढती ही चली जा रही है. पहले हम मास्क को लेकर, दो गज की दूरी को लेकर, 20 सेकेंड तक दिन में कई बार हाथ धोने को लेकर बहुत सतर्क थे. लॉकडाउन के दौरान बहुत गंभीरता से नियमों का पालन किया गया था.अब सरकारों को, स्थानीय निकाय की संस्थाओं को, देश के नागरिकों को, फिर से उसी तरह की सतर्कता दिखाने की जरूरत है. विशेषकर कन्टेनमेंट जोंस पर हमें बहुत ध्यान देना होगा. जो भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे, हमें उन्हें टोकना होगा, रोकना होगा और समझाना भी होगा.

    ये भी पढ़ें :- कांग्रेस ने PM के संबोधन पर साधा निशाना, कहा- एक नोटिफिकेशन से हो जाता काम

    >> पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान देश की सर्वोच्च प्राथमिकता रही कि ऐसी स्थिति न आए कि किसी गरीब के घर में चूल्हा न जले. केंद्र सरकार हो, राज्य सरकारें हों, सिविल सोसायटी के लोग हों, सभी ने पूरा प्रयास किया कि इतने बड़े देश में हमारा कोई गरीब भाई-बहन भूखा न सोए. देश हो या व्यक्ति, समय पर फैसले लेने से, संवेदनशीलता से फैसले लेने से, किसी भी संकट का मुकाबला करने की शक्ति बढ़ जाती है. इसलिए, लॉकडाउन होते ही सरकार, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लेकर आई.

    >> प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपये जमा करवाए गए हैं. इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपये जमा हुए हैं. एक और बड़ी बात है जिसने दुनिया को भी हैरान किया है, आश्चर्य में डुबो दिया है. वो ये कि कोरोना से लड़ते हुए भारत में, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन, यानी परिवार के हर सदस्य को  5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया गया. एक तरह से देखें तो, अमेरिका की कुल जनसंख्या से ढाई गुना अधिक लोगों को, ब्रिटेन की जनसंख्या से 12 गुना अधिक लोगों को, और यूरोपियन यूनियन की आबादी से लगभग दोगुने से ज्यादा लोगों को हमारी सरकार ने मुफ्त अनाज दिया है.

    >> पीएम मोदी ने कहा कि साथियों, हमारे यहां वर्षा ऋतु के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर एग्रीकल्चर सेक्टर में ही ज्यादा काम होता है. अन्य दूसरे सेक्टरों में थोड़ी सुस्ती रहती है. जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है. त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है. इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानी नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए.

    ये भी पढ़ें- पीएम मोदी ने किस प्रधानमंत्री का किया जिक्र, जिन पर लगा 13 हजार का जुर्माना

    >> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज गरीब को, ज़रूरतमंद को, सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय दो वर्गों को जाता है. पहला- हमारे देश के मेहनती किसान,  हमारे अन्नदाता.  और दूसरा- हमारे देश के ईमानदार टैक्सपेयर. आपने ईमानदारी से टैक्स भरा है, अपना दायित्व निभाया है, इसलिए आज देश का गरीब, इतने बड़े संकट से मुकाबला कर पा रहा है.मैं आज हर गरीब के साथ ही,  देश के हर किसान, हर टैक्सपेयर का ह्रदय से बहुत बहुत अभिनंदन करता हूं, उन्हें नमन करता हूं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज