होम /न्यूज /राष्ट्र /5G की लॉन्चिंग पर बोले अश्विनी वैष्णव- दूरसंचार के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में दर्ज होगा

5G की लॉन्चिंग पर बोले अश्विनी वैष्णव- दूरसंचार के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में दर्ज होगा

5G की लॉन्चिंग पर बोले अश्विनी वैष्णव- दूरसंचार के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में दर्ज होगा

5G की लॉन्चिंग पर बोले अश्विनी वैष्णव- दूरसंचार के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में दर्ज होगा

IMC 2022: भारत में आज से अल्ट्रा हाई-स्पीड इंटरनेट के नए युग का आगाज हो गया है, क्योंकि पीएम मोदी आज 5जी सर्विस की शुरु ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: भारत में आज से अल्ट्रा हाई-स्पीड इंटरनेट के नए युग का आगाज हो गया है, क्योंकि दिल्ली में आयोजित इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2022 कार्यक्रम के मंच से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी शनिवार को 5जी टेलीफोन सेवाओं की शुरुआत करने जा रहे हैं. 5जी सर्विस की लॉन्चिंग के इस मौके पर दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि दूरसंचार के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में दर्ज होगा.

दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, ‘आज पीएम नरेंद्र मोदी भारत में 5G सर्विस लॉन्च कर रहे हैं. दूरसंचार के इतिहास में आज का दिन सुनहरे अक्षरों में दर्ज होगा. टेलीकॉम गेटवे है, डिजिटल इंडिया की नींव है. यह हर व्यक्ति तक डिजिटल सेवाएं पहुंचाने का माध्यम है.’

उन्होंने आगे कहा कि पहले टेलीकॉम क्षेत्र में अप्रूवल के लिए औसतन 300 दिन का समय लगता था, अब यह घटकर सिर्फ 7 दिन रह गया है. पीएम मोदी के नेतृत्व में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस का प्रभाव दिख रहा है. आने वाले दिनों में टेलीकॉम सेक्टर में भारत वर्ल्ड लीडर बनकर उभरेगा.

मुकेश अंबानी ने क्या वादा किया
वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने शनिवार को घोषणा की कि उनकी दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो अगले साल दिसंबर तक पूरे देश में 5जी सेवाओं की शुरुआत कर देगी. जियो इस महीने के अंत तक 5जी सेवाएं शुरू करने की तैयारी करने की कवायद में जुटी है. इंडिया मोबाइल कांग्रेस-2022 के कार्यक्रम में मुकेश अंबानी ने कहा कि जियो 5जी की वहनीय सेवाएं शुरू करेगी और दिसंबर 2023 तक देश के हर कोने में ये सेवाएं उपलब्ध करा दी जाएंगी.

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के सीएमडी मुकेश अंबानी ने कहा कि हमने जो दिखाया है उस पर बहुत गर्व है. सीओएआई (सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया) और डीओटी (दूरसंचार विभाग) को मैं कह सकता हूं कि हम नेतृत्व लेने के लिए तैयार हैं और इंडिया मोबाइल कांग्रेस को अब एशियन मोबाइल कांग्रेस और ग्लोबल मोबाइल कांग्रेस बनना चाहिए.

मुकेश अंबानी ने कहा कि 5G नेक्स्ट जेनरेशन की कनेक्टिविटी की तुलना में कहीं अधिक है. मेरे विचार से यह मूलभूत तकनीक है, जो 21वीं सदी की अन्य तकनीकों जैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, रोबोटिक्स, ब्लॉकचैन और मेटावर्स की पूरी क्षमता को अनलॉक करती है.

Tags: 5G network, Ashwini Vaishnaw

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें