लाइव टीवी

कोरोना वायरस के कुल मरीज़ों में सिर्फ 6.39% को ही थी अस्पताल की जरूरत: स्वास्थ्य मंत्रालय

News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 7:49 PM IST
कोरोना वायरस के कुल मरीज़ों में सिर्फ 6.39% को ही थी अस्पताल की जरूरत: स्वास्थ्य मंत्रालय
रक्षात्मक सूट पहने हुए एक डॉक्टर परीक्षण केंद्र पर एक सैंपल की शीशी को एक बैग में सील करता हुआ (Reuters)

स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया, 'देश में कोरोना वायरस (COVID-19) के कुल सक्रिय मामले 61,149 हैं और 42,298 लोग संक्रमण से उबर कर स्वस्थ हो चुके हैं.'

  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के एक्टिव मरीजों की कुल संख्या में से 6.39% को ही अस्पताल (Hospital) की मदद की जरूरत पड़ी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने बुधवार को यह जानकारी दी.

कोविड-19 (COVID-19) की स्थिति पर एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि सक्रिय मामलों में लगभग 2.94% को ऑक्सीजन (Oxygen) सहायता की, 3% को आवश्यक गहन देखभाल इकाइयों (ICU) में रखे जाने की और 0.45% को आवश्यक रूप से वेंटीलेटर सपोर्ट (Ventilator Support) की आवश्यकता थी.

रिकवरी रेट बढ़कर हुआ 39.62%, लॉकडाउन की शुरुआत में यह 7.1% था
स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया, 'देश में COVID-19 के कुल सक्रिय मामले 61,149 हैं और 42,298 लोग संक्रमण से उबर कर स्वस्थ हो चुके हैं.'



अग्रवाल ने कहा कि मौजूदा रिकवरी दर 39.62% है, जबकि लॉकडाउन की शुरुआत में यह 7.1% थी.



COVID-19 का प्रसार रोकने के लिए 25 मार्च को लॉकडाउन लगाया गया था और अब इसने अपने चौथे चरण में प्रवेश कर लिया है, जो 31 मई को समाप्त होगा.

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन के असर की समीक्षा के बाद होगा इस पर फैसला
इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने एक अलग सवाल के तौर पर यह पूछे जाने पर कि वह COVID-19 उपचार योजना से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन को हटाने की योजना बना रही है, जवाब देते हुए कहा कि इसकी रोगनिरोध क्षमता की समीक्षा करने के लिए इसकी प्रभावकारिता की समीक्षा की जाएगी.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी भी दी कि देश में COVID-19 से प्रति लाख जनसंख्या में 7.9 लोग प्रभावित हुए हैं.

यह भी पढ़ें: बेंगलुरु में एक डॉक्टर कोरोना संक्रमित, डिस्पेंसरी के 6 कर्मचारी क्वारंटाइन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2020, 7:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading