Home /News /nation /

हाई रिस्क वाले देशों से आई 11 फ्लाइट्स में मिले 6 यात्री संक्रमित: केंद्र

हाई रिस्क वाले देशों से आई 11 फ्लाइट्स में मिले 6 यात्री संक्रमित: केंद्र

सभी 3476 मुसाफिरों की आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच की गई और सिर्फ छह यात्री संक्रमित पाए गए. (PTI Photo/Shailendra Bhojak) (प्रतिकात्‍मक फोटो)

सभी 3476 मुसाफिरों की आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच की गई और सिर्फ छह यात्री संक्रमित पाए गए. (PTI Photo/Shailendra Bhojak) (प्रतिकात्‍मक फोटो)

Covid Positive Internation Passengers: ‘जोखिम वाले’ देशों से बुधवार शाम तक लखनऊ को छोड़कर देश के विभिन्न हवाई अड्डों पर 11 उड़ाने पहुंची जिनमें 3476 यात्री सवार थे. मंत्रालय के मुताबिक, सभी 3476 मुसाफिरों की आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच की गई और सिर्फ छह यात्री संक्रमित पाए गए. मंत्रालय ने बताया कि संक्रमित पाए गए यात्रियों के नमूनों को संपूर्ण जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए आईएनएसएसीओजी प्रयोगशालाओं में भेजा गया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. देश में बुधवार को हाई रिस्क वाले देशों (High Risk Countries) से 11 फ्लाइट्स भारत पहुंची हैं जिसमें 6 यात्री संक्रमित पाए गए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी. मंत्रालय ने बताया कि कोरोना वायरस के ‘ओमिक्रॉन’ वेरिएंट (Coronavirus Omicron Variant) को लेकर चिंता के बीच ‘जोखिम वाले’ देशों से बुधवार को भारत पहुंची 11 उड़ानों के 3476 यात्रियों की जांच की गई जिनमें से कोविड-19 के छह मामले मिले. अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए केंद्र सरकार के संशोधित दिशा-निर्देश बुधवार से अमल में आ गए. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सार्स-कोव-2 (कोरोना वायरस) के नए स्वरूप को चिंता का स्वरूप घोषित किया है. इस वजह से नए दिशा-निर्देश जारी करने पड़े हैं.

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि केंद्र की ओर से अंतरराष्ट्रीय मुसाफिरों के लिए जारी जारी दिशा-निर्देश (Rules for International Passengers) के लागू होने के पहले दिन कोविड से छह यात्री संक्रमित पाए गए हैं. ‘जोखिम वाले’ देशों से बुधवार शाम तक लखनऊ को छोड़कर देश के विभिन्न हवाई अड्डों पर 11 उड़ाने पहुंची जिनमें 3476 यात्री सवार थे. मंत्रालय के मुताबिक, सभी 3476 मुसाफिरों की आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच की गई और सिर्फ छह यात्री संक्रमित पाए गए. मंत्रालय ने बताया कि संक्रमित पाए गए यात्रियों के नमूनों को संपूर्ण जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए आईएनएसएसीओजी प्रयोगशालाओं में भेजा गया है.

    ये भी पढ़ें- डेल्टा से ज्यादा जानलेवा हो सकता है ओमिक्रॉन, हेल्थ सर्विस पर पड़ेगी मार, मेडिकल एक्सपर्ट की रिपोर्ट

    हाई रिस्क वाले देशों की लिस्ट में ये देश हैं शामिल
    30 नवंबर को अपडेट सूची के अनुसार, ‘जोखिम वाले’ देशों में यूरोपीय देश, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इज़राइल हैं. इन देशों के यात्रियों को भारत आगमन पर अतिरिक्त उपायों का पालन करने की जरूरत है, जिसमें आगमन के बाद आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच कराना भी शामिल है.

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को देश आने वाले अंतराष्ट्रीय यात्रियों के लिए दिशानिर्देशों को और संशोधित किया, जिसमें कहा गया है कि जो मुल्क ‘जोखिम वाले’ देशों की सूची में शामिल नहीं हैं वहां आने वाले कुल यात्रियों में से दो प्रतिशत की हवाई अड्डे पर कोविड-19 की जांच औचक आधार पर की जाएगी.

    संबंधित विमानन कंपनी को प्रत्येक उड़ान से आने वाले उन दो फीसदी लोगों की पहचान करनी होगी, जिनका परीक्षण किया जाना चाहिए और बेहतर हो कि वे अलग अलग देशों से हों.

    Tags: Coronavirus, International flights, Omicron variant, RT PCR Test

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर