अपना शहर चुनें

States

किसानों को समर्थन देना चाहते थे 60 साल के बुजुर्ग, 1000 किमी साइकिल चलाकर पहुंचे टिकरी बॉर्डर

(फोटो: ANI)
(फोटो: ANI)

Farmers Protest: 60 वर्षीय सत्यदेव मांझी (Satyadev Manjhi) बताते हैं कि मैंने सरकार से तीनों कृषि कानूनों (New Farm Laws) को वापस लेने का आग्रह किया है. खास बात है कि मांझी यहां किसान आंदोलन खत्म होने तक रुकने की बात कह रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2020, 1:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली की सरहदों (Delhi Borders) पर नए कृषि कानूनों के खिलाफ नाराजगी जताते हुए किसानों को 3 हफ्तों से ज्यादा का समय गुजर चुका है. इस दौरान किसानों के समर्थन से जुड़ी कई कहानियां हमारे सामने आई हैं. बीते मंगलवार को ही संत बाबा राम सिंह (Sant Baba Ram Singh) ने किसानों के समर्थन में खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी. इसके अलावा विपक्ष के नेताओं के प्रदर्शनों में पहुंचने के कई किस्से सामने आए, लेकिन बिहार के एक बुजुर्ग सीवान के सत्यदेव के समर्थन ने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है.

बिहार के सीवान में रहने वाले 60 साल के सत्यदेव मांझी ने किसानों को समर्थन देने के लिए टिकरी बॉर्डर (Tikri Border) तक का सफर साइकिल पर ही पूरा किया है. मांझी दिल्ली-हरियाणा की टिकरी सीमा पर मौजूद किसानों में शामिल होने के लिए 1000 किमी साइकिल से ही चल दिए थे. समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में उन्होंने बताया कि उन्हें उनके गृह जिले सीवान से यहां पहुंचने में 11 दिन का समय लगा. उन्होंने सरकार से कानून वापस लेने की मांग की है.

किसान आंदोलन से जुड़े के लाइव अपडेट्स के लिए क्लिक करें



मांझी बताते हैं कि मैंने सरकार से तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का आग्रह किया है. खास बात है कि मांझी यहां किसान आंदोलन (Farmers Protest) खत्म होने तक रुकने की बात कह रहे हैं. राजधानी दिल्ली से जुड़े कई राज्यों की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन बीते 26 नवंबर से जारी है. किसान लगातार सरकार से कानूनों को वापस लेने की अपील कर रहे हैं. हालांकि, किसानों को कानूनों में संशोधन के प्रस्ताव दे चुकी सरकार भी कानून वापसी के लिए तैयार नहीं है.

आज मध्यप्रदेश के किसानों से बात करेंगे पीएम मोदी
किसानों के समर्थन में तमिलनाडु की पार्टी डीएमके के नेता एमके स्टालिन, अपनी बहन कानिमोझी करुणानिधि और दूसरे डीएमके नेताओं के साथ मिलकर एक दिन का उपवास रख रहे हैं. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मध्यप्रदेश के किसानों से चर्चा करेंगे. इसके अलावा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी उत्तर प्रदेश के मेरठ में किसानों से मुलाकात करेंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज