Assembly Banner 2021

कोरोना से जंग जीतने का बना रिकॉर्ड, 24 घंटे में 62 हजार मरीज हुए ठीक, रिकवरी रेट हुआ 74%

भारत में कोरोना से मृत्‍यु दर 1.92 प्रतिशत है और वह दुनिया के सबसे कम डेथ रेट वाले देशों में शामिल है.

भारत में कोरोना से मृत्‍यु दर 1.92 प्रतिशत है और वह दुनिया के सबसे कम डेथ रेट वाले देशों में शामिल है.

Coronavirus Updates: केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार देश में कोविड-19 के कुल 29,05,823 मामले हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 983 और लोगों की संक्रमण से मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 54,849 हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 21, 2020, 2:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत कोरोना वायरस (Coronavirus) से जंग जीतने के काफी करीब पहुंचने वाला है. देश में कोरोना वायरस से ठीक होने वाले लोगों की संख्या में दिनों-दिन इजाफा हो रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना से 62,282 लोग ठीक हुए हैं. कोरना से यह अब तक की सबसे बड़ी रिकवरी है. आंकड़ों के अनुसार अब तक देश में कोरोना के 21.5 लाख लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. 62 हजार मरीजों के ठीक होने के बाद भारत में रिकवरी रेट (Recovery Rate) 74 प्रतिशत हो गया है.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार देश में कोविड-19 के कुल 29,05,823 मामले हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 983 और लोगों की संक्रमण से मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 54,849 हो गई है.

3 करोड़ से ज्यादा सैंपल टेस्ट
स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देशभर में अब तक कुल तीन करोड़ 17 लाख 42 हजार 782 सैंपल टेस्ट हो गए हैं. आइसीयू में 1.92 फीसद और ऑक्सीजन सपोर्ट पर 2.62 फीसद मरीज हैं. कोरोना संक्रमण के कारण जान गंवाने की दर 1.90 फीसद रह गई है. मंत्रालय ने कहा, 'इलाज के बेहतर मानकों का प्रयोग करने, आइसीयू एवं अस्पतालों में कुशल डॉक्टरों के होने और एंबुलेंस सेवा में सुधार से बेहतर नतीजे मिल रहे हैं. तेज जांच की मदद से निगरानी और कांटेक्ट ट्रेसिंग से लोगों को समय पर व सही इलाज मिल रहा है.'
8 राज्यों में संक्रमितों की संख्या 1 लाख के पार


देश में आठ राज्य ऐसे हैं जहां कुल संक्रमितों की संख्या एक लाख से ज्यादा है और कुल मामलों में करीब 78 फीसद हिस्सेदारी इन्हीं राज्यों की है. इन राज्यों में महाराष्ट्र, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, बंगाल और बिहार हैं. करीब साढ़े छह लाख मामलों के साथ महाराष्ट्र की स्थिति सबसे खराब है. यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 1 लाख 62 हजार 806 है, जबकि 21,359 लोग जान गंवा चुके हैं. यहां ठीक होने की दर 71.37 फीसद और मौत की दर 3.32 फीसद है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज