त्रिपुरा: बीजेपी के 7 विधायकों ने दिल्ली में डाला डेरा, CM बिप्‍लव देव को बताया तानाशाह

त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री हैं बिप्‍लव देब.
त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री हैं बिप्‍लव देब.

सुदीप रॉय बर्मन के नेतृत्व में बीजेपी विधायकों ने कम से कम दो और विधायकों के समर्थन का दावा किया. त्रिपुरा के 60 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के पास कुल 36 विधायक (BJP MLA) हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2020, 12:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. त्रिपुरा (Tripura) के 7 बीजेपी विधायकों (BJP MLA) ने दिल्‍ली (BJP) में डेरा डाल दिया. इन सभी विधायकों ने त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री बिप्‍लव कुमार देव (Biplab kumar deb) को तानाशाह करार दिया है. इसके साथ ही सभी विधायकों ने मुख्‍यमंत्री के इस्‍तीफे की मांग की है. दिल्‍ली में डेरा डालने वाले इन सभी विधायकों की मांग है कि वे इस मामले में पार्टी आलकमान से बातचीत करना चाहते हैं. सुदीप रॉय बर्मन के नेतृत्व में बीजेपी विधायकों ने कम से कम दो और विधायकों के समर्थन का दावा किया. त्रिपुरा में कुल 36 बीजेपी विधायक हैं.

दिल्ली में डेरा डालने वाले 7 विधायकों में सुशांत चौधरी, आशीष साहा, आशीष दास, दीवा चंद्र रांखल, बुर्ब मोहन त्रिपुरा, परिमल देब बरम, राम प्रसाद पाल और सुदीप रॉय बर्मन शामिल हैं. सुशांत चौधरी के अनुसार बीरेंद्र किशोर देब बर्मन और बिप्लब घोष भी सात विधायकों के साथ हैं, लेकिन कोविड-19 के कारण दोनों दिल्ली नहीं आ सके.

इस बीच त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री के समर्थन में उतरे अन्‍य विधायकों ने कहा कि राज्य सरकार के लिए कोई खतरा नहीं है. त्रिपुरा के बीजेपी अध्यक्ष माणिक साहा ने कहा, "सरकार सुरक्षित है और सात या आठ विधायक सरकार को नहीं गिरा सकते.' 7 विधायकों द्वारा लगाए गए आरोप पर प्रतिक्रिया देते हुए साहा ने कहा कि उन्हें उनकी शिकायतों की जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा कि बीजेपी में सदस्य पार्टी के बाहर के मुद्दों पर चर्चा नहीं करते हैं.




सूत्रों के मुताबिक राम प्रसाद पाल के विधायकों के साथ जाने की संभावना नहीं है. बीजेपी सूत्रों ने कहा कि पीएम मोदी को सीएम बिप्लब देब पर भरोसा है. दूसरी ओर बागी विधायकों ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक का दावा किया है. उनका कहना है कि वे पीएम मोदी से मिलना चाहते हैं और उन्हें घटनाक्रम की जानकारी देना चाहते हैं. चौधरी ने कहा कि विद्रोहियों को पार्टी या केंद्रीय नेतृत्व के खिलाफ कोई शिकायत नहीं है. चौधरी ने कहा, 'हम बीजेपी की विचारधारा और पीएम नरेंद्र मोदी के प्रति निष्ठावान हैं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज