Home /News /nation /

बेंगलुरु का ये बच्चा बेहद दुर्लभ बीमारी से परेशान, दुनिया में सिर्फ 14 बच्चों के साथ हुआ ऐसा

बेंगलुरु का ये बच्चा बेहद दुर्लभ बीमारी से परेशान, दुनिया में सिर्फ 14 बच्चों के साथ हुआ ऐसा

बेंगलुरु में 7 महीने का बच्चा गंभीर बीमारी से पीड़ित (Photo- Impactguru.com)

बेंगलुरु में 7 महीने का बच्चा गंभीर बीमारी से पीड़ित (Photo- Impactguru.com)

Infant suffering from this rare disease in Karnataka: कर्नाटक में 7 महीने का बच्चा एक ऐसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं जिससे दुनियाभर में सिर्फ 14 लोग पीड़ित हैं.  यह बीमारी एक दुर्लभ प्राइमरी इम्युनोडिफिशियेंसी डिसऑर्डर है. विजेंयद्रा की जिंदगी केवल ब्लड स्टेम सेल ट्रांसप्लांट से बच सकती है. बेंगलुरु स्थित ब्लड स्टेम सेल रजिस्ट्री से जुड़ी संस्था अब संबंधित ब्लड स्टेम सेल की डॉनर की तलाश कर रहा है.

अधिक पढ़ें ...

    बेंगलुरु: बेंगलुरु में 7 महीने की एक मासूम बच्चा BENTA नाम की गंभीर और दुर्लभ बीमारी (Rare Disease) से पीड़ित है. दुनियाभर में सिर्फ 14 बच्चे ही इस रोग से ग्रस्त हैं. दरअसल यह बीमारी एक दुर्लभ प्राइमरी इम्युनोडिफिशियेंसी डिसऑर्डर है. विजेंयद्रा की जिंदगी केवल ब्लड स्टेम सेल ट्रांसप्लांट (Blood Stem Cell Transplant) से बच सकती है. बेंगलुरु स्थित ब्लड स्टेम सेल रजिस्ट्री से जुड़ी संस्था ने इस बात की जानकारी दी है. यह फाउंडेशन अब संबंधित ब्लड स्टेम सेल की डॉनर की तलाश कर रहा है.

    एनडीटीवी में छपी रिपोर्ट के अनुसार, विजेंयद्रा की मां रेखा ने कहा कि, एक मां होने के नाते अपने बच्चे को इस हाल में देखकर परेशान हूं और इसका जीवन बचाने के लिए हम ब्लड स्टेम सेल डॉनर की तलाश कर रहे हैं. रेखा ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि स्टेम सेल डोनेट करने के लिए आप लोगों को सिर्फ 5 मिनट का समय लगेगा. आप ऑनलाइन लॉगिन करके स्वैब सैंपल सबमिट करने के लिए आवेदन कर सकते हैं. इसकी मदद
    से इस गंभीर बीमारी से बाहर आने में मेरे बेटे को मदद मिलेगी.

    यह भी पढ़ें: कोविड-19 महामारी के ‘नाजुक मोड़’ पर खड़ी है दुनिया, ओमिक्रॉन आखिरी वेरिएंट नहीं होगा: WHO की चेतावनी

    शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ स्टालिन रामप्रकाश ने कहा कि, इस बेंटा बीमारी से दुनियाभर में 14 लोग पीड़ित हैं और विजेंयद्रा का केस दुनिया में बेंटा का पहला ऐसा मामला है जिसे उम्र और गंभीरता के लिहाज से शुरुआती चरण में पहचान लिया गया है. उन्होंने कहा कि, पिछले उपचारों के आधार पर हमें यह लगता है कि ब्लड स्टेम सेल की मदद से विजेंयद्रा की जान बचाई जा सकती है और इसके लिए हमें मैचिंग के ब्लड स्टेम सेल की तलाश है.

    ब्लड स्टेम सेल डॉनेट करने के लिए DKMS-BMST फाउंडेशन ने वर्चुअल ड्राइव लॉन्च किया है. इस अभियान में शामिल होकर देशभर के लोग जांच के लिए अपना स्वैब सैंपल देकर विजेंयद्रा की जीवन बचा सकते हैं.

    Tags: Genetic diseases, Karnataka

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर