अपना शहर चुनें

States

कर्नाटक में कोरोना वायरस के नए ‘स्ट्रेन’ के सात नए मामले: स्वास्थ्य मंत्री

कर्नाटक में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के अब तक सात मामले आ चुके हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)
कर्नाटक में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के अब तक सात मामले आ चुके हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

Coronavirus New Strain: देश में कोरोना वायरस के इस नए ‘स्ट्रेन’ के 20 मामले सामने आ चुके हैं. इसमें से सात कर्नाटक में आए हैं. संक्रमित पाए गए लोगों की जीनोम सीक्वेंसिंग की जा रही है.

  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) में ब्रिटेन (Britain) से लौटे सात लोग कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए ‘म्यूटेड स्ट्रेन’(Muted Strain) से संक्रमित पाए गए हैं. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के. सुधाकर (K Sudhakar) ने बताया कि संक्रमित पाए गए 26 लोगों के नमूने राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य एवं स्नायु विज्ञान अस्पताल (निमहांस) भेज गए थे, ताकि इनके नए ‘स्ट्रेन’ से संक्रमित होने का पता लगाया जा सके. इनमें से सात में ब्रिटेन में सामने आए वायरस के नए ‘स्ट्रेन’ से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. उन्होंने बताया कि ये 26 लोग ब्रिटेन से लौटे 1,614 लोगों में से हैं.

सुधाकर ने पत्रकरों से कहा, ‘‘सात में से तीन लोग बेंगलुरु (Bengaluru) और अन्य चार शिमोगा में हैं. सभी अस्पतालों में भर्ती हैं.’’ इनके संपर्क में आए करीब 46 लोग भी पृथक रह रहे हैं.' बता दें कर्नाटक में कोरोना वायरस संक्रमण के 662 नए मामले सामने आए हैं जिससे राज्य में बीमारी के अब तक सामने आए कुल मामलों की संख्या 9,17,571 हो गई है. इसके अलावा राज्य में इस बीमारी से चार और लोगों ने दम तोड़ दिया जिससे मृतकों की कुल संख्या 12,074 हो गई है. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि उपचार के बाद स्वस्थ हुए 1,344 और लोगों को आज अस्पतालों से छुट्टी दी गई. राज्य में अब उपचाराधीन मरीजों की संख्या 11,861 है.

ये भी पढ़ें- लव जिहाद कानून पर बोले राजनाथ सिंह- शादी के लिए धर्म बदलने की जरूरत ही क्यों?



देश में वायरस के इस नए ‘स्ट्रेन’ के 20 मामले सामने आ चुके हैं.
मुख्यमंत्री ने कहा- न बरतें लापरवाही
वहीं कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने कहा कि कोरोना वायरस का खतरा अभी कम नहीं हुआ है और महामारी को लेकर जरा सी भी लापरवाही नहीं की जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि अभी सुरक्षा दिशा-निर्देशों में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

उन्होंने नागरिकों से दिशा-निर्देशों का पालन करने और सावधानी बरतने की अपील की. उन्होंने ब्रिटेन से लौटने वाले लोगों से भी यूरोपीय देश में सामने आये कोरोना वायरस के नए स्वरूप को फैलने से रोकने के वास्ते आवश्यक स्वास्थ्य जांच या परीक्षण कराने का आह्वान किया.

ये भी पढ़ें- बड़ी खबर: 36 हजार शिक्षकों को स्कूलों में तैनाती का अभी करना होगा इंतजार

ब्रिटेन की फ्लाइट्स पर लगाई गई रोक
वायरस के नए स्ट्रेन के मद्देनजर ब्रिटेन की फ्लाइट्स पर 7 जनवरी तक रोक भी लगा दी गई है. नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को कहा कि भारत और ब्रिटेन के बीच विमान सेवाएं सात जनवरी तक स्थगित रहेंगी और इसके बाद ‘‘कड़े नियमों’’ के तहत इनका संचालन किया जाएगा.



नागर विमानन मंत्रालय ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि वायरस के ज्यादा संक्रामक नए स्वरूप (स्ट्रेन) के सामने आने की वजह से यूरोपीय देश और भारत के बीच विमानों की आवाजाही 23 दिसंबर से 31 दिसंबर तक स्थगित रहेगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के भारत-ब्रिटेन के बीच विमान सेवाएं सात जनवरी तक स्थगित करने का सुझाव देने के बाद पुरी ने यह घोषणा की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज