Independence Day: अमित शाह से लेकर अरविंद केजरीवाल तक ने किया ध्वजारोहण, तिरंगे को दी सलामी

Independence Day: अमित शाह से लेकर अरविंद केजरीवाल तक ने किया ध्वजारोहण, तिरंगे को दी सलामी
दिल्ली स्थित आवास पर ध्वजारोहण के बाद झंडे को सलामी देते गृह मंत्री अमित शाह

Independence Day कोरोना वायरस और उसके प्रोटोकॉल्स के चलते बहुत ही सावधानी के साथ देश भर में 74वां स्वाधीनता दिवस (74th Independence Day) पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जा गया. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं ने ध्वजारोहण कर झंडे को सलामी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 15, 2020, 2:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश भर में 74वां स्वाधीनता दिवस (74th Independence Day) पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा.  कोरोना वायरस और उसके प्रोटोकॉल्स के चलते बहुत ही सावधानी बरती गई. एक ओर जहां इस बार स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स और कार्यक्रमों के बिना सिर्फ ध्वजारोहण तक सीमित रहे तो वहीं सरकारी-गैर सरकारी कार्यक्रमों में भी फीकापन दिखा. देश के अलग-अलग हिस्सों में सुरक्षाबलों के साथ-साथ जिला मुख्यालयों और राजधानियों में ध्वजारोहण किया गया. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने, नौसेना स्टाफ के प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह और भारतीय वायु सेना के प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया मौजूद रहे. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने लाल किले (Red Fort) के प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित किया. इसी कड़ी में  केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने अपने आवास पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया और झंडे को सलामी दी.

वहीं दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया. इस दौरान उन्होंने कहा कि 'आज का दिन उन लोगों को याद करने का भी है, जिन्होंने पिछले 73 वर्षों में सीमा पर बलिदान दिया, ताकि देश को स्वतंत्र और सुरक्षित रखा जा सके. हमारे 20 जवानों ने भारत-चीन सीमा पर अपनी जान गंवाई. असंख्य सैनिकों ने पिछले 73 वर्षों में इस तरह अपना जीवन न्योछावर किया है.'
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सचिवालय में अपना संबोधन शुरू करते हुए 'भारत माता की जय', 'इंकलाब जिंदाबाद' और 'वंदे मातरम' के नारे लगाए.   कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आयोजित संक्षिप्त कार्यक्रम में राहुल गांधी, अहमद पटेल और के सी वेणुगोपाल भी मौजूद रहे. इसके साथ ही लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला अपने आवास पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया.वहीं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री  ई. पलानीस्वामी ने राज्य सचिवालय परिसर में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा परिसर में ध्वजारोहण किया.दूसरी ओर पश्चिम बंगाल में सीमा सुरक्षा बल (BSF) और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (BGB) फूलबाड़ी में भारत-बांग्लादेश सीमा पर एक दूसरे को मिठाईयां दीं. वहीं जम्मू और कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने श्रीनगर में ध्वजारोहण किया. इस दौरान एक संबोधन में सिन्हा ने कहा कि  विभाजन के लिए जिम्मेदार लोगों ने यहां धर्म के आधार पर विभाजन बनाने का भी प्रयास किया था. यहां के लोगों ने उनकी विचारधारा को हमेशा खारिज किया. विभाजन के समय धार्मिक उन्माद को खारिज करते हुए जम्मू-कश्मीर के लोगों ने खुद को राष्ट्रीय भावना की भावना से जोड़ा.

वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने भी ध्वजारोहण किया. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आज अपने सरकारी आवास वर्षा में राष्ट्रीय फहराया और झंडे को सलामी दी. मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बेंगलुरु के मानेकशॉ परेड ग्राउंड में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, जितेंद्र सिंह, निर्मला सीतारमण और प्रकाश जावड़ेकर ने दिल्ली में अलग-अलग कार्यक्रमों में राष्ट्रीय ध्वज फहराया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज