• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 75% वयस्कों को लगी वैक्सीन, 25% का फुल वैक्सीनेशन, त्योहारों पर चेतावनी-सावधानी हटी...

75% वयस्कों को लगी वैक्सीन, 25% का फुल वैक्सीनेशन, त्योहारों पर चेतावनी-सावधानी हटी...

देश में वैक्सीनेशन बेहद तेजी से किया जा रहा है. (तस्वीर-AP)

देश में वैक्सीनेशन बेहद तेजी से किया जा रहा है. (तस्वीर-AP)

अब तक देश में दो तिहाई यानी 75 फीसदी वयस्क आबादी को कोरोना वैक्सीन (Covid Vaccine) का कम से कम एक डोज लग चुका है. वहीं 25 फीसदी वयस्कों को दोनों डोज लगाए जा चुके हैं यानी उनका वैक्सीनेशन पूरा (Full Vaccination) हो चुका है. केंद्र की तरफ से त्योहारी मौसम के मद्देनजर एक बार फिर चेतावनी दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. कोरोना की तीसरी लहर (Covid Third Wave) की आशंकाओं के बीच देश में कोरोना वैक्सीनेशन का काम फुल स्पीड से जारी है. केंद्र सरकार ने बताया कि अब तक देश में दो तिहाई यानी 75 फीसदी वयस्क आबादी को वैक्सीन का कम से कम एक डोज लग चुका है. वहीं 25 फीसदी वयस्कों को दोनों डोज लगाए जा चुके हैं यानी उनका वैक्सीनेशन पूरा हो चुका है. हालांकि केंद्र की तरफ से त्योहारी मौसम के मद्देनजर एक बार फिर चेतावनी दी गई है. केंद्र ने कहा, ‘दूसरी लहर का अभी अंत नहीं हुआ है. त्योहारों में सतर्कता बनाए रखनी है.’

    वहीं नेशनल कोविड टास्क फोर्स के हेड डॉ. वीके पॉल ने कहा है कि दिव्यांगता या फिर स्पेशल नीड वाले लोगों को घर पर वैक्सीनेशन की सुविधा मिलेगी. इस दौरान सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा.

    कोविशील्ड को ब्रिटेन में मान्यता के मुद्दे पर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा, ‘विदेश मंत्रालय पहले ही कह चुका है कि 4 अक्टूबर से यूके ने जो व्यवस्था दी है वो डिस्क्रिमिनेरी है. हमें उम्मीद है कि जल्द ये मामला सुलझेगा.’

    कोविशील्ड को ब्रिटेन में मिल गई है मान्यता
    बता दें कि भारत के बढ़ते दबाव के बाद आखिरकार ब्रिटेन ने भारत में बनी कोरोना वैक्‍सीन कोविशील्‍ड को बुधवार को मान्‍यता दे दी है. ब्रिटेन ने अपने फैसले को बदलते हुए नई ट्रैवल एडवाइजरी जारी की है. बता दें कि भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ब्रिटेन के समक्ष कोविशील्ड को मान्यता न देने का मुद्दा उठाया था. विदेश मंत्री ने कहा था कि कोविशील्ड वैक्सीन की गैर-मान्यता एक भेदभावपूर्ण नीति है.

    CoWIN सर्टिफिकेट को अभी मान्यता नहीं
    हालांकि भारतीय यात्रियों के लिए ब्रिटेन यात्रा पर अड़चनें पूरी तरह खत्म नहीं हुई हैं. यात्रियों को ब्रिटेन पहुंचने के बाद कोविड की जांच करानी होगी और क्वारंटीन नियमों का भी पालन करना होगा. क्योंकि अभी तक देश ने CoWIN प्रमाण पत्र को मंजूरी नहीं दी है.

    इसे लेकर भारत में ब्रिटिश हाई कमिश्नर एलेक्स एलिस ने कहा, ‘हमारे सर्टिफिकेशन के मुद्दे पर कोविन ऐप और NHS app दोनों के निर्माताओं से विस्तृत बातचीत हो रही है. काफी तेजी से ये सुनिश्चित करने की कोशिश हो रही है कि दोनों देश एक दूसरे के जरिए जारी वैक्सीन सर्टिफिकेट को स्वीकार करें.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज