लाइव टीवी

आईटीबीपी केंद्र ले जाए गए वुहान से निकाले गए 76 भारतीय और 36 विदेशी नागरिक

News18Hindi
Updated: February 27, 2020, 4:21 PM IST
आईटीबीपी केंद्र ले जाए गए वुहान से निकाले गए 76 भारतीय और 36 विदेशी नागरिक
इस क्रूज़ में कुल 138 भारतीय थे जिनमें से 119 को एयर इंडिया के विमान से लाया गया.

भारतीय वायु सेना (आईएएफ) का सी-17 ग्लोबमास्टर 3, 76 भारतीय समेत 112 लोगों को लेकर आया. इनमें 23 नागरिक बांग्लादेश, छह चीन के, म्यामां और मालदीव के दो-दो तथा दक्षिण अफ्रीका, अमेरिका तथा मेडागास्कर के एक-एक नागरिक शामिल हैं. सेना का हेलीकॉप्टर बुधवार को वुहान भेजा गया और वह चीन में कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों के लिए 15 टन चिकित्सा आपूर्ति लेकर गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 4:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली.चीन (China) के कोरोना वायरस (Corona virus) से प्रभावित वुहान (Wuhan) शहर से निकाले गए 76 भारतीयों और 36 विदेशियों को गुरुवार सुबह को अलग रखने के लिए आईटीबीपी के एक केंद्र में ले जाया जा रहा है. भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी ITBP) के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘बचाए गए लोगों को हवाईअड्डे पर थर्मल जांच प्रक्रिया से गुजरना होगा जिसके बाद उन्हें छावला इलाके में हमारे केंद्र में अलग रखा जाएगा.’

भारतीय वायु सेना (आईएएफ IAF) का सी-17 ग्लोबमास्टर 3, 76 भारतीय समेत 112 लोगों को लेकर आया. इनमें 23 नागरिक बांग्लादेश, छह चीन के, म्यामां और मालदीव के दो-दो तथा दक्षिण अफ्रीका, अमेरिका तथा मेडागास्कर के एक-एक नागरिक शामिल हैं. सेना का हेलीकॉप्टर बुधवार को वुहान भेजा गया और वह चीन में कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों के लिए 15 टन चिकित्सा आपूर्ति लेकर गया.

इससे पहले भारत ने वुहान से निकाले करीब 650 भारतीयों को आईटीबीपी के केंद्र और मानेसर में सेना के एक अलग केंद्र में रखा गया था. कोरोना वायरस की जांच में ये सभी लोग नेगेटिव पाए गए और उन्हें एक पखवाड़े से अधिक समय तक अलग रखे जाने के बाद घर जाने दिया गया. आईटीबीपी प्रवक्ता ने बताया कि डॉक्टर, पराचिकित्सक तथा अन्य लोगों की टीम केंद्र में 24 घंटे मौजूद रहेगी और वहां रहने वाले लोगों को भोजन, बेड तथा समय बिताने के लिए अंदर मनोरंजन के साधन उपलब्ध कराए जाएंगे.

यह भी पढ़ें: चीन के लोगों के प्रति भारत की एकजुटता दिखाने के लिए राहत सामग्री भेजी गयी: एस. जयशंकर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 9:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर