लाइव टीवी

द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर: पूर्व NSA नारायणन का दावा, फिल्म में 80 प्रतिशत चीज़ें झूठी

भाषा
Updated: January 15, 2019, 8:17 PM IST
द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर: पूर्व NSA नारायणन का दावा,  फिल्म में 80 प्रतिशत चीज़ें झूठी
विवादास्पद किताब के लेखक संजय बारू की आलोचना करते हुए नारायणन ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार इतने बड़े कद के नहीं थे

विवादास्पद किताब के लेखक संजय बारू की आलोचना करते हुए नारायणन ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार इतने बड़े कद के नहीं थे

  • Share this:
पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एम. के. नारायणन ने कहा कि किताब ‘द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर : द मेकिंग एंड अनमेकिंग ऑफ मनमोहन सिंह’ में किये गए 80 प्रतिशत दावे ‘‘झूठे’’ हैं.

विवादास्पद किताब के लेखक संजय बारू की आलोचना करते हुए नारायणन ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार इतने बड़े कद के नहीं थे. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के करीबी माने जाने वाले पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) ने आरोप लगाया कि बारू ने 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान पैसा कमाने के लिए किताब लिखी.

भारत चैंबर ऑफ कॉमर्स के साथ एक सत्र में नारायणन ने कहा कि ये किताब पूरी तरह झूठ पर आधारित है. उनके 80 प्रतिशत दावे झूठे हैं. (सरकार में) वो इतने बड़े नहीं थे. उनका कोई महत्व नहीं था. उन्होंने आरोप लगाया कि मीडिया सलाहकार के तौर पर बारू सही से काम नहीं कर पाए और 2008 में चले गए क्योंकि उन्हें लगा कि यूपीए की सरकार सत्ता में वापस नहीं आएगी.

पूर्व आईपीएस अधिकारी ने कहा, ‘‘(किताब की) विषयवस्तु पूरी तरह उनका अपना नजरिया है.’’मनमोहन सरकार की बड़ी उपलब्धियों में से एक भारत-अमेरिका परमाणु समझौते में नारायणन की महत्वपूर्ण भूमिका रही थी.

ये भी पढ़ें:

राम रहीम की करीबी हनीप्रीत को हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, जेल में मिली ये सुविधा

'जो राम की बात करेगा, देश पर वही राज करेगा', कुंभ में मोदी लहर का इम्तिहान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2019, 8:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर