• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • एक साथ 9 शेर... ये है गीर जंगल के इतिहास की सबसे दुर्लभ तस्वीर

एक साथ 9 शेर... ये है गीर जंगल के इतिहास की सबसे दुर्लभ तस्वीर

आज देश भर में कम बारिश के कारण पानी की कमी महसूस हो रही है, कई राज्यों में लोग पानी के लिए तरस रहे है मगर गुजरात के गीर के विशाल जंगल में...

  • Share this:
    अहमदाबाद। आज देश भर में कम बारिश के कारण पानी की कमी महसूस हो रही है, कई राज्यों में लोग पानी के लिए तरस रहे है मगर गुजरात के गीर के विशाल जंगल में वन विभाग ने जंगली जानवरों के लिए पानी की ऐसी व्यवस्था की जिनके कारण इस सूखे जंगल में भी वन्य प्राणियों को पानी की किल्लत का सामना नहीं करना पड़ता। एशियाई शेरो के लिए दुनियाभर में चर्चित गीर के जंगल में पानी पीते शेर का एक ऐसा नजारा सामने आया है जिसे देखकर आपके दिल को भी ठंडक पहुंचेगी। गुजरात वन विभाग के एक अधिकारी ने एक साथ नव शेरों को एक कृत्रिम जलाशय पर पानी पीते कैमरे में कैद कर लिया है।

    गुजरात वन विभाग के अधिकारी डॉ. संदीप कुमार ने यह अदभुत नजारा कैमरे में कैद किया है जिसमें दो मादा शेरनी और सात शावक एक साथ कृत्रिम जलाशय पर पानी पीते नजर आ रहे हैं। यह नजारा अपने आप में अद्भुत इसलिए है क्योंकि इससे पहले एशियाई शेरों की इस तरह की तस्वीर पहले किसी ने नहीं खींचीं। डॉ. संदीप कुमार का कहना है कि शेर एक सामाजिक प्राणी है और हमेशा परिवार के साथ रहते हैं। शेर हमेशा खाना साथ में खाते है और पानी भी हमेशा साथ में ही पीते है, मगर यहां छोटे छोटे सात शावक के साथ दो मां शेरनी का एक साथ पानी पीने का नजारा गिर जंगल के इतिहास में सबसे अनोखा और रोमांचित करने वाला है।

    गुजरात के नर्मदा जिले के वन अधिकारी डॉ. संदीप कुमार नए भर्ती हुए 46 रेन्जर्स को ट्रेनिंग देने के लिए इस गुजरात के गीर जंगल में आए हैं। डॉ. संदीप कुमार तमिल रेंजर्स को लेकर शेर संरक्षण के सफल अभियान को रूबरू करने के लिए जब गीर के जंगल में पहुंचे तब इस तरह के अद्भुत दृश्य को कैमरे में कैद किया था। डॉ. संदीप कुमार ने कहा कि गुजरात वन विभाग ने शेर के कंजर्वेशन के लिए दुनिया में सबसे अच्छा काम किया है और उनके कारण आज गिर के जंगल में शेर की संख्या में काफी इजाफा हो रहा है।

    lion

    अप्रैल 2015 में हुई शेर की गिनती के अनुसार 523 शेर गिर में रहते हैं। शेर के साथ साथ तेंदुआ और सभी प्रजाति में इजाफा हुआ है। डॉ. संदीप कर्नाटक रेन्जर्स को ट्रेनिंग देने के लिए गीर के जंगल के आलावा, वेलावदर के ब्लेकबग अभ्यारण्य और पोरबंदर के बरड़ा जंगल में खास ट्रेनिंग दे रहे हैं जिसमें जानवरों के रेस्क्यू और संरक्षण में स्थानीय नागरिकों और किसानों के अहम रोल के बारे में भी समझा रहे हैं।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज