Lok sabha election 2019: अब है 90 करोड़ मतदाताओं की बारी, जो तय करेंगे राजनीतिक दलों का भविष्य!

2019 में देश भर में 10,35,932 पोलिंग स्टेशन बनाए जाएंगे, पहली बार वोट देने वालों पर सभी दलों की नजर...

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: March 11, 2019, 9:28 AM IST
Lok sabha election 2019: अब है 90 करोड़ मतदाताओं की बारी, जो तय करेंगे राजनीतिक दलों का भविष्य!
फाइल फोटो
ओम प्रकाश
ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: March 11, 2019, 9:28 AM IST
चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों का ऐलान कर दिया है. इस चुनाव में करीब 90 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करके नई सरकार चुनेंगे, यानी 17वीं लोकसभा का स्वरूप तय करेंगे. राजनीतिक दलों का हिसाब-किताब लेंगे. यह चुनाव अपने आप में खास होगा, क्योंकि यह इस सदी का पहला आम चुनाव होगा जिसमें इसी सदी में पैदा हुए युवा मतदान कर सकेंगे. 2019 के ऐसे मतदाता वोट देने के पात्र होंगे जिनका जन्म 1 जनवरी 2000 या उसके बाद हुआ है. (ये भी पढ़ें: Loksabha election 2019: कांग्रेस के इस दांव ने यूपी में किसके लिए बढ़ाई मुश्किल?)

 Election Commission, Lok Sabha Elections 2019, Lok Sabha poll schedule, 2019 Lok Sabha election schedule, bjp, congress, sp, bsp, rjd, narendra modi, youth voter, dates of 2019 lok sabha election, 2019 लोकसभा चुनाव की तारीख, चुनाव आयोग, लोकसभा चुनाव 2019, लोकसभा चुनाव का शेड्यूल, 2019 लोकसभा चुनाव कब-कब कहां-कहां होंगे, bjp, कांग्रेस, सपा, bsp, बीजेपी, rjd, नरेंद्र मोदी, आरजेडी, युवा मतदाता, first time voter       43.2 करोड़ महिलाएं वोट डालेंगी! (file photo)

2014 के लोकसभा चुनाव में 834,101,497 रजिस्टर्ड वोटर थे, जिनमें से 553,801,801 यानी करीब 66.4 परसेंट ने अपने मत का इस्तेमाल किया था. चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया कि 1 जनवरी 2019 तक के आंकड़े 22 फरवरी को जारी हुए थे, जिसके मुताबिक 89.7 करोड़ मतदाता हैं. इनमें से 46.5 करोड़ पुरुष और 43.2 करोड़ महिलाएं हैं. 38,325 मतदाताओं ने खुद को थर्ड जेंडर में शामिल किया है. इसी प्रकार करीब 16.6 लाख सर्विस वोटर हैं.

2014 में यह सिर्फ 13.6 लाख थे. सर्विस वोटर ऐसे मतदाता होते हैं जो सरकारी अधिकारी, सैन्य बल, सशस्त्र पुलिस बल या विदेशों में नौकरी करते हैं. वो अपना मतदान प्रॉक्सी या पोस्टल बैलेट के जरिए कर सकते हैं. 1.5 करोड़ मतदाता पहली बार डालेंगे वोट. इन पर सभी राजनीतिक दलों की नजर है. (ये भी पढ़ें: क्या मुस्लिम बीजेपी को वोट नहीं देते, आंकड़ों में देखिए सच क्या है?)

 Election Commission, Lok Sabha Elections 2019, Lok Sabha poll schedule, 2019 Lok Sabha election schedule, bjp, congress, sp, bsp, rjd, narendra modi, youth voter, dates of 2019 lok sabha election, 2019 लोकसभा चुनाव की तारीख, चुनाव आयोग, लोकसभा चुनाव 2019, लोकसभा चुनाव का शेड्यूल, 2019 लोकसभा चुनाव कब-कब कहां-कहां होंगे, bjp, कांग्रेस, सपा, bsp, बीजेपी, rjd, नरेंद्र मोदी, आरजेडी, युवा मतदाता, first time voter         सांकेतिक तस्वीर

चुनाव आयोग के सूत्रों के मुताबिक 2019 में देश भर में 10,35,932 पोलिंग स्टेशन बनाए जाएंगे. 2014 के लोकसभा चुनाव में 9,28,237 स्टेशन बनाए गए थे. इसी तरह 2009 के चुनाव में 8,30,866 पोलिंग स्टेशन थे. 2014 में 1339402 बैलेट यूनिट और 1029513 कंट्रोल यूनिट का इस्तेमाल किया गया था.

ये भी पढ़ें:
Loading...

बीजेपी की बड़ी रणनीति का हिस्सा है 'भारत के मन की बात'

तो क्या 2019 के लोकसभा चुनाव में आरक्षण बनाम आरक्षण होगा मुद्दा?

स्वतंत्र देव सिंह को मध्य प्रदेश का प्रभारी बनाने के पीछे क्या है रणनीति?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 10, 2019, 1:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...