अपना शहर चुनें

States

कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों का सर्वे कर रही सरकार, 97% लोग टीकाकरण से संतुष्ट

देश में अब तक 40 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-AP)
देश में अब तक 40 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-AP)

Covid-19 Vaccination: भारत 18 दिन के भीतर 40 लाख लोगों को टीका लगाकर सबसे तेज गति से टीकाकरण करने वाला देश बन गया है. केंद्र सरकार लाभार्थियों के फीडबैक जानने के लिए एसएमएस भेज रही है जिसमें उन्हें 4 सवालों के जवाब देने होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2021, 7:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार एक विशेष एसएमएस के जरिए उन सभी लोगों ने फीडबैक ले रही है जिन्हें कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) का पहला शॉट दिया गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी. भूषण ने बताया कि इस सिस्टम को सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा तैयार किया गया है. इस बारे में जानकारी देते हुए स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि इस तंत्र का उद्देश्य मौजूदा प्रक्रिया का विश्लेषण करना है.

सबसे पहले, लाभ पाने वालों को एक एसएमएस भेजा जाएगा, जिसमें उनसे पूछा जाएगा कि उन्हें वैक्सीन दी गई है या नहीं. एक बार जब वह हां कहेंगे तो उन्हें एसएमएस में आए एक यूआरएल पर क्लिक करने के बाद चार सवालों के जवाब देने होंगे- 1) वैक्सीनेशन की जगह पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया, 2) क्या स्टाफ ने टीकाकरण प्रक्रिया के बारे में बताया और लगाई जाने वाली वैक्सीन के बारे में बताया, 3) क्या स्टाफ को टीकाकरण के बाद होने वाली प्रतिकूल घटनाओं के बारे में जानकारी थी, 4) क्या उन्होंने टीकाकरण के बाद 30 मिनट तक इंतजार करने के लिए कहा.

ये भी पढ़ें- सीरो सर्वे का दावा-देश की 21 फीसदी आबादी कोविड-19 की चपेट में आई



एसएमएस का जवाब न देने पर की जाएगी कॉल
अगर लाभार्थी एसएमएस का जवाब नहीं देते हैं तो, उनके पास एक फोन कॉल आएगी. अगर पहली कॉल का जवाब नहीं दिया जाता तो अगली कॉल 4 घंटे के बाद की जाएगी. इन प्रक्रिया में हिस्सा लेना अनिवार्य नहीं है. सरकार ने अब तक 37 लाख लाभार्थियों को एसएमएस भेजे हैं जिनमें से 5 लाख लाभार्थियों ने जवाब दिए हैं. इसमें से करीब 97.38 प्रतिशत लोगों ने इस प्रक्रिया पर संतुष्टि जताई है.

बता दें भारत 18 दिन के भीतर 40 लाख लोगों को टीका लगाकर सबसे तेज गति से टीकाकरण करने वाला देश बन गया है. मंत्रालय ने कहा, ‘‘कई अन्य देशों को ऐसा करने में 65 दिन लगे थे. भारत ने 16 जनवरी को राष्ट्रव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान शुरू किया था. टीकाकरण कराने वाले लोगों की संख्या में हर रोज वृद्धि हो रही है.’’

मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में 8,041 सत्रों में 3,10,604 लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया गया और अब तक कुल 84,617 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए हैं. भारत में महामारी के उपचाराधीन मरीजों की संख्या गिरकर अब 1,55,025 रह गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का महज 1.44 प्रतिशत है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि भारत में अब तक की दैनिक संक्रमण दर 1.82 प्रतिशत है. इसने कहा, ‘‘भारत में पिछले कुछ हफ्तों (19 दिन) से दैनिक संक्रमण दर दो प्रतिशत से नीचे बनी हुई है.’’

देश में महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या 1,04,80,455 हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज