लाइव टीवी
Elec-widget

ममता ने राज्यपाल पर कहा- 'भाजपा के एक नेता को अभिवादन का जवाब देने का शिष्टाचार भी नहीं है'

भाषा
Updated: November 28, 2019, 9:47 PM IST
ममता ने राज्यपाल पर कहा- 'भाजपा के एक नेता को अभिवादन का जवाब देने का शिष्टाचार भी नहीं है'
ममता बनर्जी ने प बंगाल के राज्यपाल की शिष्टाचार न दिखाने के लिए शिकायत की है (फाइल फोटो)

राज्य विधानसभा (State Assembly) में मंगलवार को संविधान दिवस (Constitution Day) पर विशेष सत्र के दौरान धनखड़ और तृणमूल कांग्रेस (TMC) सरकार के बीच कड़वाहट दिखी थी.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा (West Bengal Legislative Assembly) में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Governor Jagdeep Dhankar) के बीच अभिवादन नहीं होने को लेकर जारी विवादों के बीच मुख्यमंत्री (CM) ने गुरुवार को राज्यपाल पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘‘बंगाल आए भाजपा (BJP) के एक नेता को अभिवादन का जवाब देने का शिष्टाचार भी नहीं है.’’

राज्य विधानसभा में मंगलवार को संविधान दिवस (Constitution Day) पर विशेष सत्र के दौरान धनखड़ और तृणमूल कांग्रेस (TMC) सरकार के बीच कड़वाहट दिखी थी. इस दौरान राज्यपाल और बनर्जी एक ही मंच पर थे, लेकिन उनके बीच अभिवादन तक नहीं हुआ. इसके बजाए दोनों ने एक-दूसरे को निशाना बनाया.

'ममता बनर्जी के प्रति उनके मन में काफी सम्मान'- राज्यपाल जगदीप धनखड़
राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बुधवार को कहा कि ममता बनर्जी के प्रति उनके मन में काफी सम्मान है और किसी के प्रति भी शिष्टाचार (Etiquette) के संबंध में कोई समझौता नहीं करेंगे.

बनर्जी ने एक बांग्ला समाचार चैनल से कहा, ‘‘ऐसे राज्यपाल (Governor) रहे हैं, जिनके साथ मैंने 2011 से मुख्यमंत्री के रूप में काम किया. के एन त्रिपाठी के साथ मुझे कभी दिक्कत नहीं हुई और उनके साथ अच्छा कामकाजी संबंध था. लेकिन, अब एक भाजपा (BJP) नेता (धनखड़) राज्य आए हैं, जो अभिवादन भी नहीं करते.’’

ममता बैनर्जी ने पहले धनखड़ को बताया था 'बीजेपी का मुखपत्र'
पूर्व में धनखड़ को ‘भाजपा का मुखपत्र’ (BJP mouthpiece) बता चुकीं मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘वह विधानसभा के अंदर हमारे साथ बुरा व्यवहार कर रहे हैं. मैं उनके (धनखड़) जीवन और करियर में अच्छे स्वास्थ्य और समृद्धि की कामना करती हूं.
Loading...

राज्यपाल के प्रति आलोचना जारी रखते हुए उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हर किसी को शिष्टाचार का पालन करना चाहिए. मैं सात बार संसद के लिए चुनी जा चुकी हूं, दो बार मैंने विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की. कोलकाता, दिल्ली (Delhi) कहीं भी विपक्षी दलों के नेताओं से मिलती हूं तो मैं भी यह (शिष्टाचार) निभाती हूं.’’

 

यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी ने कहा - विधानसभा उपचुनाव में TMC की जीत NRC के खिलाफ जनादेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 9:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...