'एक देश एक चुनाव' पर बनेगी कमेटी, तय समय पर सौंपेगी रिपोर्ट

'वन नेशन वन इलेक्शन' पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि आज प्रधानमंत्री जी ने देश के सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों के साथ बैठक के लिए बुलाया था.

News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 11:48 AM IST
News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 11:48 AM IST
'वन नेशन वन इलेक्शन' पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि आज प्रधानमंत्री जी ने देश के सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों के साथ बैठक के लिए बुलाया था. इस बैठक में संसद को सुचारू रूप से चलाने, एक देश एक चुनाव समेत 5 मुद्दों पर चर्चा हुई.

संसद को ठीक से चलाने पर ज़ोर
राजनाथ सिंह ने कहा कि संसद को ठीक से चलाने की बात पर सभी ने ज़ोर दिया. इसके अलावा ज़्यादातर दलों ने एक देश एक चुनाव पर अपना समर्थन दिया. लेफ्ट के नेताओं ने थोड़ा विरोध किया कि यह किस तरह होगा. इस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि इस विषय पर एक कमेटी बनाई जाएगी जो तय समय पर अपने सुझाव देगी.

महात्मा गांधी की 150वीं पुण्यतिथि पर चर्चा

बैठक में महात्मा गांधी की 150वीं पुण्यतिथि को लेकर भी चर्चा हुई. बैठक में तय किया गया कि महात्मा जी की 150वीं जयंती को हर्ष के साथ मनाया जाएगा.

जल प्रबंध और स्वच्छता आंदोलन पर काम होगा तेज
राजनाथ सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री ने जल प्रबंध को बड़ी चुनौती बताया और कहा कि इस दिशा में बड़ा काम किया जाएगा. उन्होंने कहा कि बैठक में स्वच्छता आंदोलन का भी ज़िक्र किया गया.
बैठक के बाद क्या बोले नेता
एक देश एक चुनाव का ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने समर्थन किया है. वहीं सीताराम येचुरी से इसका विरोध किया है. वहीं अकाली दल के सांसद सुखबीर बादल ने कहा कि वन नेशन वन इलेक्शन को लेकर अच्छी चर्चा हुई. बार-बार चुनाव से समय और पैसे की बर्बादी होती है. वहीं केंद्रीय मंत्री और लोजपा नेता रामविलास पासवान ने कहा कि- वन नेशन वन इलेक्शन को लेकर कुछ दलों को छोड़कर सभी ने इसका समर्थन किया और इस प्रस्ताव को आगे बढ़ाने की बात कही गई.

40 दलों को भेजा गया था बुलावा
बता दें इस बैठक के लिए 40 दलों को बुलाया गया था जिसमें से 21 राजनीतिक दलों ने इसमें हिस्सा लिया था. 3 ने अपने लिखित सुझाव भेजे हैं. इस बैठक के लिए 24 राजनीतिक दलों के लोग शामिल थे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...