Home /News /nation /

ओमिक्रॉन कुछ दिनों तक करेगा परेशान फिर हो जाएगा शांत! केरल कोविड टास्क फोर्स को इस डॉक्टर की सलाह

ओमिक्रॉन कुछ दिनों तक करेगा परेशान फिर हो जाएगा शांत! केरल कोविड टास्क फोर्स को इस डॉक्टर की सलाह

दुनियाभर में कोरोना महामारी के मामले बढ़े

दुनियाभर में कोरोना महामारी के मामले बढ़े

Doctor advice on Omicron Variant and Corona wave: देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट का कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो गया है और इस वेरिएंट के कारण देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं. इस बीच केरल कोविड टास्क फोर्स को सलाह देते हुए डॉक्टर राजीव जयादेवन ने कहा कि, कोविड-19 का ओमिक्रॉन वेरिएंट कुछ समय तक के लिए हमारे बीच मौजूद रहेगा लेकिन बाद में यह खत्म हो जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    कोच्चि: देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) के सामुदायिक संक्रमण के कारण कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के मामले तेजी से बढ़े हैं. हालांकि यह वेरिएंट ज्यादा घातक साबित नहीं हुआ है. इस बीच केरल कोविड-19 टास्क फोर्स (Covid-19 Task Force) को सलाह देते हुए एक डॉक्टर ने कहा है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट कुछ समय के लिए परेशानी का कारण बनेगा और इसके बाद इसका प्रभाव कम होता जाएगा. वहीं डेल्टा वेरिएंट (Delta Variant) भी इसी तरह दिक्कत की वजह बना था. कोरोना की तीसरी लहर में ओमिक्रॉन वेरिएंट की वजह से कोविड-19 के मामले बढ़े हैं जबकि पिछले साल आई दूसरी लहर में डेल्टा वेरिएंट के कारण काफी नुकसान हुआ था.

    न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, डॉ राजीव जयादेवन ने कोच्चि में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के कार्यक्रम में कोविड टास्क फोर्स को सलाह देते हुए कहा कि, कोविड-19 का ओमिक्रॉन वेरिएंट कुछ समय तक के लिए हमारे बीच मौजूद रहेगा लेकिन बाद में यह खत्म हो जाएगा. वहीं डेल्टा वेरिएंट भी हमारे बीच मौजूद है हालांकि इस बात की संभावना कम है कि डेल्टा वेरिएंट लंबे समय तक जीवित रहेगा.

    इंडियन सार्स-कोव-2 जीनोमिक कंसोर्टियम ने अपने ताजा बुलेटिन में कहा कि देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट सामुदायिक संक्रमण के स्तर पर पहुंच गया है और महानगरों में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. INSACOG के अनुसार, ओमिक्रॉन का एक सब-वेरिएंट BA.2 देश में कई जगह मिला है. कोरोना वायरस का यह सब वेरिएंट यूरोपियन और एशियन देशों में तेजी से फैला है और कोरोना की नई लहर का कारण बना है.

    यह भी पढ़ें: देश में कम हुई कोरोना की ‘R-Value,’ अगले 14 दिन में पीक पर होगी कोरोना की लहर

    कोविड-19 के इस सब वेरिएंट के 80 फीसदी मामले कोलकाता से मिले हैं, जिन्हें 22 से 28 दिसंबर के बीच जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था. इन सैंपल्स के सीटी लेवल का स्तर 30 से कम रहा, जो यह दर्शाता है कि इसमें हाई वायरल लोड रहा है. यूके हेल्थ एजेंसी ने पिछले 10 दिनों में ब्रिटेन में 426 केस मिले हैं. इसके अलावा यह सब वेरिएंट 40 देशों में और पाया गया है.

    INSACOG ने कहा कि अब तक सामने आए ओमिक्रॉन के अधिकतर मामलों में या तो रोगी में संक्रमण के लक्षण दिखाई नहीं दिए या फिर हल्के लक्षण नजर आए दिखे हैं. अस्पताल और आईसीयू में भर्ती होने के मामले मौजूदा लहर में बढ़ गए हैं और खतरे के स्तर में परिवर्तन नहीं हुआ है. इस समूह ने अब तक 150710 सैंपल की सिक्वेंसिंग की है और 127697 सैंपल्स की समीक्षा की है.

    वहीं केरल में रविवार को लॉकडाउन लगाया गया इसमें सिर्फ इमरजेंसी सेवाओं को ही अनुमति दी गई. इस तरह का अगला लॉकडाउन 30 जनवरी यानि अगले रविवार को भी लगेगा. शनिवार को राज्य में कोविड-19 के 45,136 केस मिले थे.

    Tags: Coronavirus, Omicron

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर