अरुण जेटली के निधन पर राज्यवर्धन सिंह राठौड़ बोले- उनकी जगह अब भरना मुश्किल

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 10:22 PM IST
अरुण जेटली के निधन पर राज्यवर्धन सिंह राठौड़ बोले- उनकी जगह अब भरना मुश्किल
पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा के कद्दावर नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन से राजनीतिक खेमे में दुख की लहर दौड़ गई. राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित विभिन्न पार्टियों के बड़े नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा के कद्दावर नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन से राजनीतिक खेमे में दुख की लहर दौड़ गई. राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित विभिन्न पार्टियों के बड़े नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2019, 10:22 PM IST
  • Share this:
पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा के कद्दावर नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) के निधन से राजनीतिक खेमे में दुख की लहर दौड़ गई. राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित विभिन्न पार्टियों के बड़े नेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है. इसी क्रम में भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ (Rajyavardhan Singh Rathore) ने ट्वीट कर जेटली को याद किया. उन्होंने लिखा कि अरुण जेटली की जगह भरना अब बहुत मुश्किल है.

राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने लिखा, 'हाज़िरजवाब, खुशमिजाज़, जिज्ञासु लेकिन ज्ञान के भंडार. अद्वितीय संकट मोचक, एक ऐसे अध्‍यापक जो बड़े आराम से सिखाते थे. जिनकी अभी जाने की उम्र नहीं थी, उनके जैसा नेतृत्व करने वाले शख्स की जगह भरना अब बहुत मुश्किल है. एक मेंटर जो हमारा पथ-प्रदर्शन करते रहेंगे..' ओम शांति


66 साल के जेटली का शनिवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था. उनके परिवार में पत्नी एवं बच्चे हैं. कई अन्य नेताओं, अभिनेताओं और खिलाड़ियों ने भी अरुण जेटली को याद करते हुए ट्वीट किया.

खेल मंत्री कीरेन रीजीजू ने ट्वीट किया, 'अरुण जेटली के निधन की खबर सुनकर काफी दुख हुआ. यह मेरे लिये व्यक्तिगत क्षति है. वह बेहतरीन वकील और शानदार सांसद थे. उन्हें हमेशा याद रखा जायेगा. उनके परिवार और समर्थकों को मेरी संवेदनायें.'



जेटली के काफी करीब रहे पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज और भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने ट्वीट किया, 'पिता आपको बोलना सिखाते हैं लेकिन पिता तुल्य व्यक्ति आपको बातचीत करना सिखाता है. पिता आपको बोलना सिखाता है लेकिन पिता तुल्य व्यक्ति आपको आगे बढ़ना सिखाता है. पिता आपको नाम देता है लेकिन पिता तुल्य व्यक्ति आपको पहचान देता है. मेरे पिता तुल्य अरूण जेटली जी के निधन से मेरा एक हिस्सा उनके साथ चला गया.'
Loading...



पेशे से वकील जेटली की भाजपा सरकार के पहले कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमंडल में उनकी अहम भूमिका रही. उन्होंने वित्त और रक्षा मंत्रालय का कार्यभार संभाला और कई बार सरकार के लिए संकट मोचक भी साबित हुए.

बीमारी के कारण जेटली ने 2019 लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया था. इस साल मई में भी उन्हें इलाज के लिए एम्स में भर्ती कराया गया था.

गत वर्ष 14 मई को उनके गुर्दे का प्रतिरोपण हुआ था. उस समय रेलवे मंत्री पीयूष गोयल ने उनके वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाला था.

ये भी पढ़ें-
अमृतसरी कुल्चा से लेकर महंगी कार तक, ये थे जेटली के शौक

अरुण जेटली चेक से बच्चों को दिया करते थे पॉकेट मनी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 7:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...