अमेरिकी मीडिया का एक हिस्सा जा रहा है कश्मीर के खिलाफ - भारतीय राजदूत

अमेरिकी मीडिया का एक तबका खासतौर से उदारवादी धड़ा कश्मीर पर एकतरफा तस्वीर दिखा रहा - भारतीय राजदूत

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 12:04 PM IST
अमेरिकी मीडिया का एक हिस्सा जा रहा है कश्मीर के खिलाफ - भारतीय राजदूत
अमेरिकी मीडिया कश्मीर पर एकतरफा तस्वीर दिखा रहा है
News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 12:04 PM IST
वाशिंगटन: अमेरिका (America) में भारत के राजदूत (Ambassador of india) ने कहा है कि भारतीय हितों के खिलाफ काम कर रहे पक्ष के कहने में आकर अमेरिकी मीडिया (Media) का एक हिस्सा कश्मीर (Kashmir) के खिलाफ काम कर रहा है. अमेरिकी मीडिया का एक तबका खासतौर से उदारवादी धड़ा कश्मीर पर एकतरफा तस्वीर दिखा रहा है. और ऐसा उन पक्षों के कहने पर किया जा रहा है जो भारतीय हितों के खिलाफ काम कर रहे हैं. भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा कि भारत द्वारा पिछले महीने जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने का फैसला लोगों की भलाई के लिए किया गया है.

पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में भारतीय राजनयिक ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 कड़ी आलोचना की और कहा कि यह एक अराजकतावादी प्रावधान था जिससे अर्थव्यवस्था का दम घुट रहा था और पाकिस्तानी आतंकवाद को बढ़ावा मिल रहा था. उन्होंने कहा कि दुर्भाग्यवश अमेरिका में मीडिया के एक तबके खासतौर से उदारवादी तबके ने अपने ही कारणों से, मुद्दे के इस परिदृश्य को सामने नहीं लाने का विकल्प चुना है जबकि यह परिदृश्य बेहद महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा कि वे तस्वीर के उस पहलू पर फोकस कर रहे हैं जिसे उन पक्षों द्वारा आगे बढ़ाया गया है जो हमारे हितों से बैर रखते हैं.

श्रृंगला ने कहा कि उन्होंने और यहां भारतीय दूतावास ने भारत के बारे में तथ्यात्मक स्थिति को लेकर कांग्रेस सदस्यों, सीनेटरों और थिंक टैंक से संपर्क कायम करने के लिए एक व्यापक अभियान छेड़ा है.

भारतीय राजदूत के अनुसार, कश्मीर में हालिया बदलावों से माहौल बेहतर होगा और यह कदम जम्मू कश्मीर के लोगों के हित में ही रहेगा. उन्होंने कहा कि इससे प्रदेश के लोगों को अपने अधिकारों को हासिल करने में मदद मिलेगी जिससे वे दशकों से वंचित थे. उन्होंने कहा कि इस विचार से हम रूबरू कराने की कोशिश कर रहे हैं. श्रृंगला ने पिछले सप्ताह यूट्यूब पर एक लंबा चौड़ा वीडियो पोस्ट किया था जिसमें जम्मू कश्मीर के दर्जे में बदलावों के वास्तविक कारणों पर रोशनी डाली गयी थी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 12:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...