आज का मौसम, 22 अक्टूबर: ओडिशा, आंध्र प्रदेश में भारी बारिश के आसार, समुद्री तटों पर उठ सकती है ऊंची लहरें

प्रतीकात्मक तस्वीर- ANI
प्रतीकात्मक तस्वीर- ANI

Weather Forecast Today: भारत मौसम विभाग (IMD) ने देश के कई राज्यों में गरज और तेज़ हवाओं के साथ भारी बारिश का अनुमान जताया है. मौसम विभाग के अनुसार ओडिशा, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल में तेज हवा के साथ भारी बारिश हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 7:01 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत मौसम विभाग (IMD) ने देश के कई राज्यों में गरज और हवाओं के साथ भारी बारिश (Rain Prediction) का अनुमान जताया है. मौसम विभाग के अनुसार ओडिशा में तेज हवा के साथ भारी बारिश हो सकती है. वहीं तटीय आंध्र प्रदेश में भी भारी बारिश के आसार हैं. बता दें मौसम विभाग ने मंगलवार को ही जानकारी दी थी कि बंगाल की खाड़ी में पिछले एक महीने में तीसरी बार बने कम दबाव क्षेत्र से आंध्रप्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में अगले तीन दिन तक मूसलाधार बारिश होने की संभावना है.

बात गुरुवार यानी आज की करें तो आंध्र प्रदेश और ओडिशा के लिए मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है. बुधवार को दक्षिण ओडिशा से सटे आंध्र प्रदेश तट पर से लो प्रेशर सिस्टम हट गया. IMD के महानिदेशक, मृत्युंजय महापात्र ने कहा गुरुवार को सिस्टम डिप्रेशन यानी दबाव में बदल कर उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ जाएगी. यह डिप्रेशन 24 अक्टूबर की सुबह पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश को पार कर सकता है.

आईएमडी ने उत्तर ओडिशा, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में भारी से बहुत भारी बारिश और हवा की स्थिति का पूर्वानुमान लगाया है. कम दबाव के क्षेत्र के कारण दुर्गा पूजा के दौरान कोलकाता और पश्चिम बंगाल के अन्य हिस्सों में बारिश होने की आशंका है.



इन राज्यों में बेहद भारी बारिश की आशंका
मौसम विभाग के अनुसार, ‘ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटवर्ती क्षेत्रों में कहीं-कहीं 22 अक्टूबर को बेहद भारी बारिश (115.6-204.4 मिली मीटर प्रति दिन) होने का अनुमान है. नगालैंड, मणपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में 23 अक्टूबर को जबकि असम और मेघालय में 24 अक्टूबर को कहीं-कहीं भारी से अत्यधिक भारी वर्षा हो सकती है.’

इसके साथ ही मौसम विभाग ने गुरुवार को दक्षिण कर्नाटक, तमिनलाडु, तटीय कर्नाटक, रायलसीमा, पश्चिमी मध्य प्रदेश, कोंकण और गोवा, छत्तीसगढ़. तेलंगाना, मध्य महाराष्ट्र के कुछ इलाकों में गरज और तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की आशंका जताई है.

इस साल देरी से लौट रहा दक्षिण-पश्चिमी मानसून
भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, उत्तर प्रदेश, बिहार, उत्तरी पश्चिमी बंगाल और सिक्किम, झारखंड , मध्यप्रदेश, उत्तरी छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र, गुजरात में जिन हिस्सों में अभी भी दक्षिण-पश्चिमी मानसून सक्रिय है, उसके अगले दो-तीन दिन में वहां से हटने के लिए सही वातावरण तैयार हो रहा है. गौरतलब है कि दक्षिण-पश्चिमी मानसून इस साल देरी से लौट रहा है.

विभाग ने आशंका जताई है कि ओडिशा-पश्चिम बंगाल में 22 अक्टूबर को उत्तर-ओडिशा-पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश के तटों पर तेज लहरें उठ सकती हैं. मछुआरों को भी इस संदर्भ में सलाह दी गई है कि वे समुद्र में ना जाएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज