• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • AAJ KA MAUSAM TODAY WEATHER NEWS MONSOON 2021 DELHI WEATHER NEWS RAJASTHAN WEATHER NEWS

Today's Weather Forecast: दिल्ली में बारिश के आसार, राजस्थान में लू चलते रहने की आशंका

अगले दो दिन में पश्चिम बंगाल और झारखंड के सभी इलाकों तक पहुंच जाएगा मानसून (सांकेतिक तस्वीर)

Todays Weather News: मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून दक्षिण गुजरात के कुछ और इलाकों, महाराष्ट्र के बचे हुए इलाकों, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, दक्षिण मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों, छत्तीसगढ़ और दक्षिण गुजरात भी पहुंच गया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने गुरुवार को बताया कि दक्षिण पश्चिम मानूसून अच्छी गति से आगे बढ़ रहा है और अगले दो दिन में पश्चिम बंगाल और झारखंड के सभी इलाकों तक यह पहुंच जाएगा. मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून दक्षिण गुजरात के कुछ और इलाकों, महाराष्ट्र के बचे हुए इलाकों, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, दक्षिण मध्यप्रदेश के कुछ हिस्सों, छत्तीसगढ़ और दक्षिण गुजरात भी पहुंच गया है.

    विभाग ने बताया, 'गुजरात के कुछ और हिस्सों, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ के बाकी बचे इलाकों, पूरे पश्चिम बंगाल और झारखंड, बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों और उत्तरी बंगाल की खाड़ी में मानसून के अगले 48 घंटे में पहुंचने की अनुकूल परिस्थितियां बनी हुई है.' मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमोत्तर भारत के मैदानी इलाकों में अगले चार दिन तक तेज हवाएं (25 से 35 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से) चलने की संभावना है.

    विभाग ने बताया कि उत्तर पश्चिमी बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती चक्रण बना हुआ है जिसकी वजह से उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी और आसपास के इलाके में अगले 24 घंटे के दौरान कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. इसके अगले 24 घंटे में मजबूत होने और ओडिशा के ऊपर पश्चिम उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ने की संभावना है. मौसम विभाग ने बताया, 'इसके (निम्न दाब क्षेत्र) प्रभाव से विस्तृत क्षेत्र में बारिश की गतिविधियां देखने को मिलेगी और पूर्वी भारत के अधिकतर हिस्सों और उससे जुड़े मध्य क्षेत्र में भारी बारिश होने की संभावना है.'

    विभाग ने बताया, '11 और 12 जून को ओडिशा के इलाको में भारी बारिश (20 सेंटीमीटर) बारिश होने की संभावना है.इसी प्रकार 11- 13 जून को छत्तीसगढ़ में, 13 जून को पूर्वी मध्यप्रदेश में और 12-13 जून को विदर्भ में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान है.' आईएमडी ने बताया कि तटीय इलाकों में निम्न दाब के साथ पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने की वजह से महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में 10 से 15 जून तक और तटीय कर्नाटक में 12 से 15 जून तक मूसलाधार बारिश का दौर जारी रहने का पूर्वानुमान है.

    केरल में भी 12 से 15 जून तक भारी बारिश होने की संभावना है जबकि कोंकण में 12 से 15 जून के बीच मूसलाधार बारिश होगी. मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिम- पश्चिमोत्तर में कम दबाव का क्षेत्र बनने और उसकी वजह से पूर्वोत्तर भारत के कई इलाकों में (राजस्थान को छोड़कर) 12 से 14 जून के बीच बारिश की गतिविधि देखने को मिलेगी. वहीं, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में भी 12 जून को मूसलाधार बारिश का पूर्वानुमान है.

    दिल्ली में अधिकतम तापमान 39.8 डिग्री सेल्सियस, शुक्रवार को हल्की बारिश की संभावना
    वहीं आईएमडी ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में गुरुवार को अधिकतम तापमान 39.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. सफदरजंग वेधशाला ने न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो कि सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस अधिक है. वहीं सापेक्षिक आर्द्रता का स्तर शाम पांच बजकर 30 मिनट पर 47 प्रतिशत दर्ज किया गया. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक शाम सात बजकर पाँच मिनट पर 214 रहा.

    गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच के एक्यूआई को 'अच्छा' माना जाता है, 51 से 100 के बीच को 'संतोषजनक', 101 से 200 के बीच को 'मध्यम', 201 से 300 के बीच को 'खराब', 301 से 400 के बीच को 'बहुत खराब', 401 से 500 के बीच के एक्यूआई को 'गंभीर' श्रेणी में माना जाता है. मौसम विभाग ने शुक्रवार को आसमान में बादल छाए रहने और हल्की बारिश की संभावना जताई है. यहां न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमश: 29 डिग्री सेल्सियस और 39 डिग्री सेल्सियस रह सकता है.

    राजस्थान में भीषण गर्मी, गंगानगर में अधिकतम तापमान 45.3 डिग्री सेल्सियस
    इसके साथ ही राजस्थान में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है और राज्य में गंगानगर में सबसे अधिक अधिकतम तापमान 45.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार, गुरुवार को पिलानी में अधिकतम तापमान 44.7 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 44.5 डिग्री, करौली में 44 डिग्री, सवाईमाधोपुर में 43.6 डिग्री, बीकानेर में 43 डिग्री और कोटा में 42.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं राज्य के अन्य शहरों में अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया.

    विभाग के अनुसार, गंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू और आसपास के जिलों में अगले 48 घंटों के दौरान लू चलती रहेगी. विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि 12 जून से राजस्थान के उत्तरी भागों में गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं, जिससे तापमान में मामूली गिरावट होने से लू से राहत मिलने की उम्मीद है.

    उन्होंने बताया कि पूर्वी राजस्थान में 12 जून से एक बार पुनः मानसून पूर्व गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी और 12 से 14 जून तक कोटा, जयपुर, उदयपुर, भरतपुर और बीकानेर संभाग के कुछ जिलों में बारिश के साथ अचानक तेज हवाएं चल सकती हैं. वहीं दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर संभाग के ज्यादातर भागों में मौसम अगले तीन-चार दिन शुष्क बना रहेगा.
    Published by:Rahul Sankrityayan
    First published: