लाइव टीवी

क्या सिद्धू जाएंगे आम आदमी पार्टी में, भगवंत मान बोले-हम चाहते हैं वह...

News18Hindi
Updated: February 19, 2020, 11:10 PM IST
क्या सिद्धू जाएंगे आम आदमी पार्टी में, भगवंत मान बोले-हम चाहते हैं वह...
कहा जा रहा है कि राज्य में अनदेखी से सिद्धू लंबे समय से नाराज हैं.

2017 में हुए पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab assembly election) से पहले भी नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) के बीजेपी के बाद आप में जाने की अटकलें चली थीं. लेकिन कई दौर की बातचीत के बाद भी दोनों पक्षों में सहमति नहीं बनीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 19, 2020, 11:10 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव (Punjab assembly election) से पहले कांग्रेस विधायक नवजोत सिद्धू (Navjot Singh Siddhu) को आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) में शामिल कराने की अटकलों के बीच पार्टी के पंजाब प्रमुख भगवंत मान (Bhagwant Man) ने बुधवार को कहा कि क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू के साथ इस बारे में कोई ‘आधिकारिक स्तर’ वार्ता नहीं हुई है. भगवंत मान ने हालांकि कहा कि बिना किसी व्यक्तिगत हित के जो लोग राज्य के कल्याण के लिए काम करना चाहते हैं उन सभी लोगों के लिए पार्टी के दरवाजे हमेशा खुले हैं.

संगरूर से सांसद ने यहां एक संवाददता सम्मेलन में कहा, ‘सिद्धू के चरित्र पर कोई संदेह नहीं कर सकता है. वह एक ईमानदार व्यक्ति हैं. मैं उनके क्रिकेट के दिनों से ही हमेशा से उनका प्रशंसक रहा हूं. अब तक, आधिकारिक स्तर पर हमारी उनसे कोई बातचीत नहीं हुई है.’

पार्टी में शामिल होने के सवाल पर ये बोले मान
यह पूछे जाने पर कि क्या वह चाहते हैं कि सिद्धू आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) में शामिल हों, मान ने कहा कि जो बिना किसी व्यक्तिगत हित के राज्य के कल्याण के लिए काम करना चाहते हैं हम चाहते हैं कि वह सब हमारी पार्टी में शामिल हों.






पंजाब चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हुए थे सिद्धू
बता दें कि 2017 में हुए पंजाब विधानसभा से पहले भी नवजोत सिंह सिद्धू के बीजेपी के बाद आप में जाने की अटकलें चली थीं. लेकिन कई दौर की बातचीत के बाद भी दोनों पक्षों में सहमति नहीं बनीं. इसके बाद सिद्धू कांग्रेस में चले गए. राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी. आम आदमी पार्टी का प्रदर्शन भी अच्छा रहा और वह दूसरे नंबर की पार्टी बनी.

लंबे समय से खामोश हैं सिद्धू
सरकार बनने के बाद सिद्धू पंजाब सरकार में मंत्री बन गए, लेकिन उनकी और सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से नहीं बनी. खासकर लोकसभा चुनावों के बाद हालात और बिगड़ गए. राहुल गांधी ने सिद्धू को आगे बढ़ाया, लेकिन राहुल के अध्यक्ष पद छोड़ने के बाद सिद्धू के सितारे भी गर्दिश में चले गए, तब से वह खामोश ही हैं.

(भाषा के इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें...

प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए खुशखबरी! इस साल 30 फीसदी तक बढ़ेगी सैलरी

BJP सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने GST को बताया- 21वीं सदी का सबसे बड़ा पागलपन...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 19, 2020, 11:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading