Home /News /nation /

केजरीवाल के हाथ में हमेशा रहेगी AAP की कमान! पार्टी बैठक में होगा फैसला

केजरीवाल के हाथ में हमेशा रहेगी AAP की कमान! पार्टी बैठक में होगा फैसला

आप के संयोजक पद पर अरविंद केजरीवाल का दूसरा कार्यकाल अप्रैल 2019 में खत्म होने वाला है.  (फाइल फोटो)

आप के संयोजक पद पर अरविंद केजरीवाल का दूसरा कार्यकाल अप्रैल 2019 में खत्म होने वाला है. (फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी (AAP) की शनिवार को होने वाली अहम बैठक में पार्टी के संविधान में संशोधन किए जाने की संभावना है, जिसके बाद अरविंद केजरीवाल हमेशा के लिए पार्टी प्रमुख बने रह सकते हैं.

    आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय परिषद की शनिवार को अहम बैठक होने वाली है. इस बैठक में अगले साल होने वाले आम चुनावों की तैयारियों और देश के मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा होने की संभावना है.

    पार्टी सूत्रों ने बताया कि आप के संविधान में संशोधन किए जाने की संभावना है, ताकि एक व्यक्ति के अधिकतम दो बार पार्टी पदाधिकारी रहने के नियम को बदला जा सके. इसका मतलब यह होगा कि आप के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हमेशा के लिए पार्टी प्रमुख बने रह सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- क्या दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण से निपटने के लिए संजीदा है केजरीवाल सरकार?

    AAP के मौजूदा संविधान के अनुसार, 'कोई भी सदस्य पार्टी पदाधिकारी के रूप में एक ही पद पर तीन-तीन साल के लिए लगातार दो बार से ज्यादा नहीं रह सकता है.'

    AAP की कलह फिर उजागर, लोकसभा चुनाव को लेकर केजरीवाल की आस पर भी फिरा पानी!

    बता दें कि केजरीवाल अप्रैल, 2016 में तीन साल के लिए दूसरी बार आप के संयोजक चुने गए थे. इस लिहाज से अप्रैल 2019 में उनका दूसरा कार्यकाल भी खत्म होने वाला है.

    सूत्रों ने बताया कि अगले साल अप्रैल में पार्टी के राष्ट्रीय परिषद की बैठक बुलाए जाने की संभावनाएं कम हैं, क्योंकि पार्टी कार्यकर्ता चुनाव प्रचार में व्यस्त होंगे. वहीं इसकी भी संभावना है कि परिषद पार्टी पदाधिकारियों के कार्यकाल में छह माह का विस्तार कर सकती है और पार्टी संगठन का चुनाव लोकसभा चुनावों के बाद होने की संभावना है. (भाषा इनपुट के साथ)

    Tags: Aam aadmi party, AAP, Arvind kejriwal, Delhi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर