जम्‍मू-कश्‍मीर के शोपियां ने पेश की मिसाल, 45+ के सभी लोगों को लगा कोरोना का टीका

शोपियां में 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को लगा टीका. (File pic)

शोपियां में 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को लगा टीका. (File pic)

स्‍थानीय प्रशासन ने बूथ लेवल ऑफिसर के स्‍तर पर पूरा वोटर डाटा जुटाया, ताकि सभी 45 साल से अधिक उम्र के लोगों की पहचान करके उन्‍हें टीका लगवाया जा सके.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. जम्‍मू कश्‍मीर (Jammu Kashmir) के शोपियां (Shopian) में 45 साल की उम्र से अधिक के सभी लोगों को कोरोना वायरस की टीका (Corona vaccine) लगाया जा चुका है. ऐसा वहां के स्‍थानीय प्रशासन की ओर से उठाए गए कुछ प्रशंसनीय कदमों के कारण मुमकिन हुआ है. शोपियां में स्‍थानीय प्रशासन ने सभी को टीका लगाने के लिए धार्मिक तौर पर प्रभावी व्‍यक्तियों का लाभ उठाया और लोगों में वैक्‍सीन प्रति उनकी गलत धारणाओं को खत्‍म किया.

इसके साथ ही स्‍थानीय प्रशासन ने बूथ लेवल ऑफिसर के स्‍तर पर पूरा वोटर डाटा जुटाया. ताकि सभी 45 साल से अधिक उम्र के लोगों की पहचान करके उन्‍हें टीका लगवाया जा सके. अब ऐसा करके जम्‍मू के बाद शोपियां देश का दूसरा जिला बन गया है, जहां 45 साल की उम्र से अधिक के लोगों को टीका लगाया जा चुका है.

शोपियां में इस अभियान की शुरुआत मार्च में हुई थी और अब यह जिला दूसरे जिलों के लिए प्रेरणा है. हालांकि सेबों के मशहूर शोपियां दो दिन पहले तक टीकाकरण के मामले में जम्‍मू से भी आगे था. लेकिन बाद में जम्‍मू ने बढ़त बना ली थी.

जैनपोरा के एसडीएम मुश्‍ताक अहमद लोन का कहना है कि पूरे स्‍थानीय प्रशासन ने स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के साथ मिलकर काम किया है. मस्जिद प्रशासनों ने लोगों को प्रेरित करने का काम किया. साथ ही बूथ स्‍तर पर बीएलओ और आंगनवाड़ी वर्कर्स की बड़े स्‍तर पर तैनाती की. ताकि घर-घर जाकर 45 साल से अधिक उम्र के लोगों की पहचान की जा सके और उन्‍हें टीके के लिए प्रेरित किया जाए. इसके साथ ही एसडीएम और तहसीलदारों को गांवों के स्‍तर पर निगरानी करने को कहा गया.
उन्‍होंने जानकारी दी कि शोपियां में कोरोना की वैक्‍सीन का टीकाकरण तीव्र गति से हुआ. क्‍योंकि वहां वैक्‍सीन की कोई कमी नहीं थी. इसके लिए उपराज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा का धन्‍यवाद. 24 घंटे सातों दिन जिलाधिकारियों ने इसके लिए काम किया. अगर किसी गांव में टीकाकरण में कमी दिखती थी तो हम वहां अगले दिन टीकाकरण को बढ़ा देते थे.



अफसरों के अनुसार 45 साल से अधिक उम्र के 78,769 लोगों को वैक्‍सीन की पहली डोज दी गई. स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने इसके लिए 70 टीकाकरण केंद्र स्‍थापित किए थे. इनमें प्रत्‍येक में 100 से 150 लोगों को टीका लगाने की क्षमता थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज