ओबामा पर बिफरे आचार्य प्रमोद कृष्णन, कहा-राहुल 'कांग्रेस' के भगवान, जिसे जो करना हो कर ले

फाइल फोटोः आचार्य प्रमोद कृष्णन ने कहा कि ओबामा अपनी सीमा में रहें या खुलकर कह दें कि मोदी जी के भक्त हैं.

फाइल फोटोः आचार्य प्रमोद कृष्णन ने कहा कि ओबामा अपनी सीमा में रहें या खुलकर कह दें कि मोदी जी के भक्त हैं.

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन (Acharya Pramod Krishnam) ने बराक ओबामा (Barack Obama) पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या उन्होंने लोगों को काबिलियत का सर्टिफिकेट देने का संस्थान खोल रखा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 15, 2020, 12:23 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barack Obama) की किताब 'ए प्रॉमिज्ड लैंड' में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के व्यक्तित्व पर की गई टिप्पणी ने हिंदुस्तान के सियासी गलियारों में जुबानी जंग शुरू कर दी है. ओबामा ने अपनी किताब में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बारे में जिक्र करते हुए उन्हें एक 'घबराया हुआ और अनगढ़ छात्र' बताया है. इसके बाद से ही कांग्रेसी नेता ओबामा पर हमलावर हैं. इस कड़ी में ताजा नाम आचार्य प्रमोद कृष्णन (Acharya Pramod Krishnam) का है.

2019 के चुनाव में लोकसभा से कांग्रेस प्रत्याशी रहे आचार्य प्रमोद ने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए कहा कि राहुल गांधी 'कांग्रेस' के भगवान हैं और जिसे जो करना है कर ले. यही नहीं आचार्य प्रमोद ने पूर्व राष्ट्रपति पर बरसते हुए उन्हें मोदी भक्त करार दिया.


कांग्रेस नेता ने सवाल उठाते हुए कहा, 'क्या ओबामा राहुल गांधी के सहपाठी रहे हैं? क्या राहुल गांधी जिस स्कूल में पढ़े हैं, ओबामा उसमें मास्टर थे? क्या ओबामा ने काबिलियत का सर्टिफिकेट देने का संस्थान खोल रखा है. ओबामा को ये कैसे पता चला कि राहुल गांधी अयोग्य हैं? काबिल नहीं हैं? नर्वस छात्र हैं? ओबामा को पता होना चाहिए कि राहुल गांधी करोड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं के भगवान हैं. अपनी सीमा में रहें बराक ओबामा या फिर खुलकर कह दें कि वे भी मोदी जी के भक्त हो गए हैं.'
ओबामा कि किताब में राहुल गांधी का जिक्र सामने आने के बाद बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस को आत्मचिंतन करने की सलाह दी थी. बीजेपी नेता गौरव भाटिया ने कहा था, 'ओबामा उन नेताओं में से हैं, जिनकी बातों को लोग गंभीरता से सुनते हैं. दूसरी ओर राहुल गांधी ऐसे नेता हैं, जिनको कोई गंभीरता से नहीं लेता. ये सच सबको पता है. राहुल गांधी पार्ट टाइम पॉलिटिशियन हैं.'

अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित ओबामा की किताब की समीक्षा के मुताबिक, पूर्व राष्ट्रपति ने कहा है कि राहुल गांधी में 'एक घबराए हुए और अनगढ़ छात्र' के गुण हैं जिसने अपना पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है और वह अपने शिक्षक को प्रभावित करने की चाहत रखता है, लेकिन उसमें 'विषय में महारत हासिल' करने की योग्यता या फिर जुनून की कमी है.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज