लाइव टीवी

पंजाब के CM अमरिंदर सिंह बोले, पराली जलाने के लिए पहले ही हो चुकी है 2923 किसानों पर कार्रवाई

News18Hindi
Updated: November 3, 2019, 9:27 PM IST
पंजाब के CM अमरिंदर सिंह बोले, पराली जलाने के लिए पहले ही हो चुकी है 2923 किसानों पर कार्रवाई
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पराली से होने वाले प्रदूषण को लेकर बात की है (फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री (Punjab CM) कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने कहा है कि इस साल पराली जलाने (Stubble Burning) के कुल मामलों में 10-20% की कमी आने की उम्मीद है. इसके अलावा उन्होंने इसके लिए दूरगामी उपाय निकालने की बात केंद्र के सिर डाल दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2019, 9:27 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. पंजाब में 1 नवंबर तक कुल 20,729 पराली जलाने (Stubble Burning) के मामलों में 2,923 किसानों के खिलाफ एक्शन लिया जा चुका है. साथ ही 2018 के मुकाबले इस साल पराली जलाने के मामलों में 10-20% तक की कमी आने का अनुमान है. यह बात पंजाब के मुख्यमंत्री (Punjab CM) कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने कही है और इसे अपनी सरकार के जोरदार कदमों का परिणाम बताया है.

2018 के 49,000 पराली जलाने के मामलों के मुकाबले इस साल राज्य सरकार ने अभी तक कुल 20,729 मामले ही ऐसे पकड़े हैं. बता दें कि रिपोर्ट के मुताबिक अब ज्यादा ऐसी घटनाएं सामने नहीं आएंगी क्योंकि 70% से ज्यादा धान की कटाई (Paddy Harvesting) पहले ही की जा चुकी है.

छापामार दलों ने पराली जलाने वालों पर लगाया लाखों का जुर्माना
हालांकि पिछले साल पराली जलाने (Stubble Burning) के मामलों में किसानों पर लगाए गए जुर्माने की वसूली पर स्टे लगा रखा है फिर भी राज्य सरकार ने पराली जलाने की खतरनाक परंपरा के खिलाफ अपना जोरदार अभियान चलाए रखा. यह बात भी पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने रविवार को अपने बयान में कही.

इस दौरान सरकार के छापामार दलों ने 1 नवंबर, 2019 तक 11,286 जगहों पर छापेमारी की और इस दौरान उन्होंने 1,585 मामलों में 41,62,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया. आदेशों का पालन न करने के मामले में 202 किसानों के खिलाफ FIR भी दर्ज कराई गई है.

दूरगामी उपायों की गेंद केंद्र सरकार के पाले में डाली
उन्होंने यह भी कहा है कि बचे हुए पराली जलाने के मामलों की जांच किए जाने और पर्यावरण प्रदूषण (Environmental Pollution) के लिए जुर्माना लगाए जाने के मामलों में तेजी लाई जा रही है. उन्होंने यह भी कहा कि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कंबाइन हार्वेस्टर से खेती करने वाले 31 लोगों पर सुपर SMS मशीन से खेती न करने के चलते 62 लाख का जुर्माना भी लगाया है. बता दें कि सुपर SMS हार्वेस्टर से फसल काटने पर पराली नहीं बचती है.
Loading...

इसके अलावा प्रदूषण रोकने के दूरगामी उपायों की गेंद सीएम अमरिंदर सिंह (CM Amrinder Singh) ने केंद्र सरकार के पाले में डालते हुए आशा जताई है कि पीएम मोदी वायु प्रदूषण के गंभीर मुद्दे पर उनके पत्र के महत्व को समझेंगे और उसका जवाब भी देंगे. अमरिंदर सिंह ने यह भी कहा है कि उनकी सरकार लगातार पराली जलाने के मामलों पर रोक लगाने के लिए काम कर रही है.

यह भी पढ़ें: प्रदूषण का डर: 40 फीसदी लोग छोड़ना चाहते हैं दिल्‍ली-NCR

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 7:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...