पश्चिम बंगाल चुनाव के दौरान विवादित बयान देकर फंसे मिथुन चक्रवर्ती, कोलकाता पुलिस ने की पूछताछ

अभिनेता और भाजपा नेता मिथुन चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

अभिनेता और भाजपा नेता मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty ) के खिलाफ भड़काऊ भाषण देकर चुनाव के बाद हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया गया है.

  • Share this:
    कोलकाता. अभिनेता और भाजपा नेता मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) से कोलकाता पुलिस (Kolkata Police) उनके एक बयान को लेकर पूछताछ कर रही है. मिली जानकारी के अनुसार पश्चिम बंगाल चुनाव (West Bengal Election 2021) के लिए प्रचार के दौरान उनके विवादास्पद भाषण को लेकर कोलकाता पुलिस ने वर्चुअल पूछताछ की. उनके भाषण को भड़काने वाला बताते हुए माणिकतला में एफआईआर दर्ज की गई थी.

    माणिकतला पुलिस थाने में दर्ज प्राथमिकी में दावा किया गया है कि सात मार्च को भाजपा में शामिल होने के बाद आयोजित रैली में चक्रवर्ती ने ‘ मारबो एकहने लाश पोरबे शोशाने’ (तुम्हें मारूंगा तो लाश श्मशान में गिरेगी) और ‘ एक छोबोले चाबी’ (सांप के एक दंश से तुम तस्वीर में कैद हो जाओगे) संवाद बोले, जिसकी वजह से राज्य में चुनाव के बाद हिंसा हुई.

    हाईकोर्ट ने कहा था- पूछताछ में हों शामिल
    बता दें मिथुन ने जिस रैली में यह बयान दिया था, उसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे. इससे पहले चक्रवर्ती ने प्राथमिकी रद्द करने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी. याचिका में चक्रवर्ती ने दावा किया था कि उन्होंने केवल अपनी फिल्मों के संवाद बोले थे.

    वहीं अभिनेता की याचिका पर सुनवाई करते हुए कलकत्ता हाईकोर्ट ने निर्देश दिया था कि वह राज्य को अपना ई-मेल पता दें ताकि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के दौरान अपने भाषणों के जरिये चुनाव के बाद कथित तौर पर हिंसा भड़काने को लेकर दर्ज कराई गई शिकायत के सिलसिले में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये वह पूछताछ में शामिल हो सकें.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.