लाइव टीवी

CAA विरोधी प्रदर्शन में शामिल हुईं पूजा भट्ट, कहा- सरकार को धन्यवाद, आपने हमें जगा दिया

News18Hindi
Updated: January 28, 2020, 9:38 AM IST
CAA विरोधी प्रदर्शन में शामिल हुईं पूजा भट्ट, कहा- सरकार को धन्यवाद, आपने हमें जगा दिया
पूजा भट्ट ने कहा कि 'सत्ता पक्ष ने वास्तव में हमें एकजुट किया है.'

पूजा भट्ट (Pooja Bhatt) ने कहा कि सीएए-एनआरसी (CAA-NRC Protest) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्र हमें संदेश दे रहे हैं कि यह आवाज उठाने का समय है. मतभेद देशभक्ति का सबसे बड़ा रूप है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 28, 2020, 9:38 AM IST
  • Share this:
मुंबई. संशोधित नागरिकता कानून (CAA), संभावित एनआरसी (NRC) और प्रस्तावित एनपीआर (NPR) के खिलाफ देश भर में विरोध प्रदर्शनों का दौर जारी है. मुंबई में हुए ऐसे ही एक विरोध प्रदर्शन में अभिनेत्री पूजा भट्ट (Pooja Bhatt) भी शामिल हुई. इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि 'हम सब औरतों के अंदर एक मां है, आपने उसको जगा दिया है.' भट्ट ने कहा, 'आज पूरी दुनिया बोल रही है यूरोपियन संघ बोल रहा है, इकोनोमिक्स टाइम्स (मैगजीन) बोल रहा है, क्या सब झूठे हैं.'

दक्षिण मुंबई के कोलाबा में सीएए-एनआरसी के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में आयोजित एक कार्यक्रम में कई अन्य हस्तियों के साथ भट्ट ने हिस्सा लिया था. कार्यक्रम का आयोजन परचम फाउंडेशन और 'वी द पीपल ऑफ महाराष्ट्र' द्वारा किया गया था. इस दौरान पूजा भट्ट  ने कहा, 'आप कहते हैं न भारत माता की जय बोलो... हम सब औरतों के अंदर एक मां है, आपने उसको जगा दिया है. मैं भारत सरकार को धन्यवाद देती हूं, आपने हमको जगा दिया.'

'CAA-NRC मेरे घर को बांटता है'
आंदोलन का समर्थन करते हुए भट्ट ने कहा कि 'हम इतने एरोगेंट नहीं हो सकते. उन्होंने हमको संदेश दे दिया है जाग जाओ.' भट्ट ने कहा कि CAA, एनआरसी का विरोध करते हुए कहा कि 'मैं इसे सपोर्ट नहीं करती, ये मेरे घर को बांटता है और जो चीज मेरे घर को बांटती है मैं उसे स्वीकार नहीं करती.'

भट्ट ने कहा, 'बॉलीवुड में कहा जाता है सिर्फ दस पंद्रह लोग बोलते हैं मैं जानती हूं सब नहीं बोलते सब डरते हैं.' उन्होंने कहा, 'नेता हमको सुनो शाहीन बाग की औरतों को सुनो.' उन्होंने कहा कि 'ये सरकार जान गयी है उनकी ऑडियंस क्या है. मैं मीडिया से विनती करती हू जो घर में आग लगी है ज्यादा पेट्रोल न डालें.' कहा कि 'मतभेद देशभक्ति का सर्वश्रेष्ठ स्वरूप है. उन्होंने जोर दिया कि सीएए-एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों से हमें यह संदेश मिलता है कि अब आवाज उठाने का वक्त आ गया है.'

यह भी पढ़ें: लखनऊ: CAA के खिलाफ प्रदर्शन में पहुंचे फरंगी महली, बोले- इंशाअल्लाह सरकार इस कानून को जरूर वापस लेगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2020, 8:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर