अदार पूनावाला ने किया महाराष्ट्र को 1.5 करोड़ वैक्सीन डोज देने का वादा: राजेश टोपे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला (फाइल फोटो: ANI)

Vaccination in Maharashtra: बुधवार को राज्य में कोविड-19 (Covid-19) स्थिति को लेकर कैबिनेट बैठक हुई थी. इसके बाद राजेश टोपे ने बताया 'वैक्सीन की कमी के चलते 18-44 की उम्र के लोगों के लिए कुछ समय तक टीकाकरण रोक दिया है.'

  • Share this:
    मुंबई. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) के सीईओ अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) ने 20 मई के बाद महाराष्ट्र को 1.5 करोड़ डोज देने का वादा किया है. इस बात का जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को दी है. खास बात है कि कोविड-19 वैक्सीन प्रोग्राम के बीच राज्य ने वैक्सीन कमी का मुद्दा उठाया था. राज्य में टीके की कमी के चलते वैक्सीन सेंटर्स बंद किए जाने की खबरें भी सामने आई थीं. मंत्री लगातार केंद्र से वैक्सीन सप्लाई बढ़ाने की मांग कर रहे थे.

    समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, अदार पूनावाला ने 20 मई के बाद महाराष्ट्र को वैक्सीन देने का वादा किया है. एजेंसी के मुताबिक, टोपे ने कहा 'सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ आदार पूनावाला ने मुख्यमंत्री से 20 मई के बाद कोविशील्ड के 1.5 करोड़ डोज देने का वादा किया है.' उन्होंने कहा 'इसके बाद हम 18-44 के आयुवर्ग के लिए टीकाकरण शुरू कर देंगे.' राज्य ने वैक्सीन की कमी के कारण इस आयुवर्ग के लिए बुधवार को टीकाकरण रोक दिया है.

    बुधवार को राज्य में कोविड-19 स्थिति को लेकर कैबिनेट बैठक हुई थी. इसके बाद टोपे ने बताया 'वैक्सीन की कमी के चलते 18-44 की उम्र के लोगों के लिए कुछ समय तक टीकाकरण रोक दिया है.' उन्होंने जानकारी दी 'इस आयुवर्ग के लिए राज्य सरकार की तरफ से खरीदे गए सभी डोज फिलहाल 45 की उम्र वाले वर्ग को दिए जाएंगे.'

    कोरोना: महाराष्ट्र में लॉकडाउन बढ़ाने की तैयारी, 18+ का वैक्सीनेशन रुका

    राज्य में लॉकडाउन का क्या?
    कहा जा रहा था कि बुधवार को हुई बैठक में राज्य में लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया जा सकता है. टोपे ने बताया कि इस दौरान स्वास्थ्य विभाग और अन्य मंत्रियों ने राज्य में 15 दिनों के लिए लॉकडाउन बढ़ाने की बात कही है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा 'इस मामले पर मुख्यमंत्री अंतिम फैसला लेंगे.'

    इससे पहले राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था कि टेस्टिंग बढ़ाने के बाद भी महाराष्ट्र में पॉजिटिविटी दर में गिरावट नहीं आई है. टोपे ने शनिवार को जारी बयान में कहा कि महाराष्ट्र सरकार को कड़ी पाबंदियां लागू किए तीन हफ्तों से ज्यादा का समय हो चुका है. इसके बाद भी रोज मिलने वाले मामलों की औसत संख्या 50 हजार से ज्यादा बनी हुई है, जो चिंता की बात है. केंद्र सरकार का हवाला देते हुए टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र के कुल 36 जिलों में से 12 में केस कम हुए हैं, लेकिन कई अन्य जिलों में संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं.