ADG ने बताया, आर्टिकल-370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर के कैसे हैं हालात?

अतिरिक्त महानिदेशक मुनीर खान ने बताया कि, जम्मू-कश्मीर में (Jammu and Kashmir) आर्टिकल-370 (Article-370) हटाए जाने के बाद से पूरी तरह से शांति का माहौल है. पिछले कुछ समय से जम्मू-कश्मीर में लगाई गई पाबंदियां पूरी तरह से हटा ली गई हैं.

News18Hindi
Updated: August 14, 2019, 4:51 PM IST
ADG ने बताया, आर्टिकल-370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर के कैसे हैं हालात?
आर्टिकल-370 हटाए जाने के बाद से जम्मू कश्मीर में पूरी तरह से शांति का माहौल है.
News18Hindi
Updated: August 14, 2019, 4:51 PM IST
जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) से आर्टिकल-370 (Article-370) हटाए जाने के बाद से हालात सामान्य बने हुए हैं. बुधवार को जम्मू-कश्मीर के हालात को लेकर एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) मुनीर खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने बताया कि आर्टिकल-370 हटाए जाने के बाद से जम्मू-कश्मीर में लगाए गए प्रतिबंधों को पूरी तरह से हटा लिया गया है लेकिन कश्मीर में कुछ स्थानों पर कुछ वक्त के लिए पाबंदियां लागू रहेंगी. उन्होंने बताया कि जम्मू-कश्मीर में स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है और किसी को भी कोई बड़ी चोट नहीं आई है.

अतिरिक्त महानिदेशक मुनीर खान ने बताया कि जम्मू में पूरी तरह से शांति का माहौल है. पिछले कुछ समय से जम्मू में लगाई गई पाबंदियां पूरी तरह से हटा ली गई हैं हालांकि कश्मीर के कई इलाकों में अभी भी एहतियातन धारा 144 लागू की गयी है. उन्होंने बताया कि कुछ जगहों पर लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया था, जिन्हें सुरक्षाबलों ने रोक लिया था. इस दौरान कुछ लोगों को हल्की चोट लगी है.



उन्होंने बताया कि कुछ वीडियो को वायरल करके लोगों की भावनाओं को भड़काने का प्रयास किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि जिस वीडियो को वायरल किया गया है, वह साल 2010 और 2016 का है. पुलिस ने इन वीडियो को रोकने का पूरा प्रयास कर रही है. इससे पहले जम्मू कश्मीर के प्रिंसिपल सेक्रेटरी समाज कल्याण रोहित कंसल ने कहा था कि जो क्षेत्र ज्यादा संवेदनशील हैं, वहां पर लोगों की जान बचाने के लिए ही एक हद तक पाबंदी लगाई गई है. नागरिकों की सुरक्षा हमारे लिए सबसे पहले हैं.
Loading...

इसे भी पढ़ें :- कश्मीर में स्वतंत्रता दिवस समारोह के रिहर्सल के बाद पाबंदियों में और ढील की उम्मीद
First published: August 14, 2019, 3:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...