अधीर रंजन चौधरी का बड़ा आरोप- बंगाल में ममता बनर्जी BJP की सबसे बड़ी एजेंट

अधीर रंजन चौधरी ने बंगाल में भाजपा के उभार पर ममता को बहस की चुनौती दी
अधीर रंजन चौधरी ने बंगाल में भाजपा के उभार पर ममता को बहस की चुनौती दी

Adhir Ranjan Chaudhary challenged Mamata Banerjee: बंगाल कांग्रेस (Bengal Congress) के नवनियुक्त अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा, 'मैं टीएमसी अध्यक्ष (ममता) को चुनौती देता हूं कि बंगाल में भाजपा के उभार और उसके कारणों पर मेरे साथ बहस करें. क्या आपके भीतर इसे स्वीकार करने की हिम्मत है?'

  • भाषा
  • Last Updated: September 18, 2020, 9:09 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. बंगाल कांग्रेस (Bengal Congress) के नवनियुक्त अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chaudhary) ने राज्य में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के उभार और इसके कारणों पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार को ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को चुनौती दी. चौधरी ने कहा कि उनकी पार्टी के भाजपा से हाथ मिलाने के आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है. उन्होंने कहा कि बनर्जी, बंगाल में 'भाजपा की सबसे बड़ी एजेंट हैं.' चौधरी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के कई सांसदों ने संसद में नागरिकता संशोधन विधेयक पर मतदान में हिस्सा नहीं लिया था.

उन्होंने एक वीडियो संदेश में कहा, 'मैं टीएमसी अध्यक्ष (ममता) को चुनौती देता हूं कि बंगाल में भाजपा के उभार और उसके कारणों पर मेरे साथ बहस करें. क्या आपके भीतर इसे स्वीकार करने की हिम्मत है?' चौधरी ने कहा, 'मुझे पता चला कि टीएमसी ने दिल्ली में आरोप लगाया है कि कांग्रेस ने बंगाल में भाजपा के साथ हाथ मिलाया है और क्षेत्रीय कार्यकर्ता कांग्रेस पर भरोसा नहीं करते. अधीर चौधरी पर पत्थर फेंकने से पहले मैं आपसे (बनर्जी) आग्रह करता हूं कि अपने नेताओं को आईना देखने को कहें.' बेरहामपुर से पांच बार सांसद ने कहा कि आरोप लगाने का समय 'दिलचस्प' था क्योंकि उन्हें पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाए जाने के बाद ही आरोप लगाया गया.

यह 'नो-डेटा' सरकार है, प्रधानमंत्री की लोकप्रियता अब पहले जैसी नहीं रही: कांग्रेस
कांग्रेस ने अर्थव्यवस्था, रोजगार और कोरोना संकट की स्थिति को लेकर शुक्रवार को लोकसभा में सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता अब पहले जैसी नहीं रही और यह अब 'नो-डेटा सरकार' बन चुकी है.
ये भी पढ़ें: कृषि विधेयक पर संजय झा का अपनी ही पार्टी पर निशाना, कहा-चुनावों में कांग्रेस का भी यही वादा था



ये भी पढ़ें: नवजोत सिंह सिद्धू ने शायरी से साधा केंद्र पर निशाना, 'सरकारें तमाम उम्र यही भूल करती रहीं...'

'वर्ष 2020-21 के लिये अनुदान की अनुपूरक मांगों के पहले बैच और वर्ष 2016-17 की अतिरिक्त अनुदान की मांगों पर चर्चा में भाग लेते हुए लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने यह भी कहा कि जिस मनरेगा को भाजपा के लोग 'मरेगा' कहते थे, आज वही रोजगार का बड़ा सहारा बन गया है. उन्होंने दावा किया कि आप लोग (भाजपा सांसद) प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता के सहारे यहां तक आ गए, लेकिन अब उनकी लोकप्रियता पहले जैसे नहीं रही. अब उनके पेज पर लाइक से ज्यादा डिस्लाइक मिलना शुरू हो गए हैं.

अर्थव्यवस्था की स्थिति का उल्लेख करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि यह बहुत चिंता की बात है कि मौजूदा वित्त वर्ष में हमारी जीडीपी करीब 24 फीसदी गिर गई. उन्होंने कहा, 'आप लोग मनरेगा को 'मरेगा' कहते थे. लेकिन यह मनरेगा सबको बचाता है. अब आप लोगों को भी यही मनरेगा बचा रहा है. संप्रग सरकार ने जो कानून बनाया था उसके कारण ही आप इसके तहत लोगों को पैसे दे रहे हैं.' चौधरी ने कहा कि कोरोना संकट के समय राज्यों की अनदेखी हो रही है. चौधरी ने कहा कि आप आत्मनिर्भरता की बात करते हैं. आपने 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज की बात की. लेकिन ज्यादातर रेटिंग एजेंसियों ने क्या कहा, उसे देखना चाहिए. यह एक धोखा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज