VIDEO: कांग्रेस नेता अधीर रंजन का एक और विवादित बयान, हिटलर के नाजी कैंप से की कश्मीर की तुलना

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi) ने भरोसा दिलाया था कि हम कश्मीरियों को गोलियों से नहीं, गले लगाकर आगे बढ़ाएंगे. लेकिन, आज कश्मीर की हालत नाज़ी कॉन्सेंट्रेशन कैंप (Nazi Concentration Camp) जैसी हो गई है.

News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 2:29 PM IST
VIDEO: कांग्रेस नेता अधीर रंजन का एक और विवादित बयान, हिटलर के नाजी कैंप से की कश्मीर की तुलना
अधीर रंजन चौधरी ने दिया विवादित बयान, कश्मीर की तुलना हिटलर के नाजी कैंप से की
News18Hindi
Updated: August 8, 2019, 2:29 PM IST
जम्मू-कश्मीर (jammu and kashmir) को स्पेशल स्टेटस देने वाले संविधान के आर्टिकल 370 (Article 370) का लोकसभा में विरोध कर अपने ही बयान पर घिर चुके कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने एक बार फिर बेतुका बयान दिया है. चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक तरफ तो लाल किले से घोषणा करते हैं कि हम कश्मीरियों को गोलियों से नहीं, गले लगाकर आगे बढ़ाएंगे. लेकिन, आज कश्मीर के हालत कॉन्सेंट्रेशन कैंप (हिटलर की नाजी कैंप) बना दिया गया है.

उन्होंने कहा कि कश्मीर में आज न तो कोई मोबाइल सेवा है और न ही इंटरनेट कनेक्शन. कोई भी अमरनाथ यात्रा नहीं जा पा रहा है. आज तक कभी कश्मीर में ऐसा नहीं हुआ है. आज तक कश्मीर में ऐसा नहीं हुआ जब हिंदुओं और श्रद्धालुओं ने अमरनाथ यात्रा पूरी नहीं की हो. ये क्या हो रहा है.

चौधरी ने कहा कि कश्मीर में लाखों की संख्या में सेना मौजूद हैं, पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात है तो फिर वहां क्यों नहीं जाया जा सकता. इस तरह का माहौल पैदा करना हिन्दुस्तान जैसे ताकतवर देश के लिए किसी तरह का सवाल उठाने जैसा है. कश्मीर सबके लिए खोल दिया जाए. क्या होगा. वहां पाकिस्तान से कोई युद्ध तो नहीं हो रहा है तो आखिर सबकुछ इतना गुपचुप तरीके से क्यों किया जा रहा है. इसके साथ ही अधीर रंजन चौधरी ने पाकिस्तान को भी जवाब देते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दा हमारा आंतरिक मामला है. हम कोई भी कानून बना सकते हैं. यह हमारा अधिकार है.


Loading...

गौरतलब है कि कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने लोकसभा में इस बिल का विरोध करते हुए कहा था कि कश्मीर भारत का अंदरूनी मसला नहीं है. ये एक द्विपक्षीय मसला है और संयुक्त राष्ट्र 1948 से इसपर मॉनिटरिंग कर रही है. अधीर के इस सेल्फ गोल से सदन में कांग्रेस के खिलाफ नारेबाजी होने लगी.

अधीर रंजन के बगल में बैठीं संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) चेयरपर्सन सोनिया गांधी भी हैरान नज़र आईं. उनके रिएक्शन से साफ दिखा कि वह अधीर रंजन के बयान से बिल्कुल इत्तेफाक नहीं रखती हैं और खासी नाराज़ हैं. हालांकि, सोनिया गांधी ने मनीष तिवारी के भाषण की तारीफ की है और कहा है कि मनीष तिवारी ने पार्टी के पक्ष को सही तरीके से पहुंचाया है.

इसे भी पढ़ें :- आर्टिकल 370 पर अधीर रंजन के सेल्फ-गोल से घिरी कांग्रेस, कुछ ऐसा था सोनिया गांधी का रिएक्शन
First published: August 8, 2019, 1:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...