अपना शहर चुनें

States

West Bengal: अधीर रंजन बोले- लॉकडाउन ने बढ़ाई गरीबी; स्मृति ईरानी से आरती मिल शुरू करने की मांग

अधीर रंजन चौधरी की फाइल फोटो
अधीर रंजन चौधरी की फाइल फोटो

West Bengal Election: पश्चिम बंगाल में 2021 में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसे लेकर पहले ही राज्य में काफी सियासत गरमाई हुई है. केंद्र में सत्ता पर काबिज बीजेपी ने राज्य में अपनी सक्रियता बढ़ानी शुरू कर दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 27, 2020, 4:00 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) को पत्र लिखा है. चौधरी ने पत्र के जरिए टेक्सटाइल मंत्री ईरानी से पश्चिम बंगाल के हावड़ा स्थित आरती जूट मिल (Arati jute mill) को दोबारा खोले जाने की मांग की है. इसके लिए उन्होंने मिल में काम करने वाले मजदूरों की परेशानियों का हवाला दिया है. गौरतलब है कि चौधरी पश्चिम बंगाल कांग्रेस (Congress) के प्रमुख हैं.

पत्र में कांग्रेस नेता चौधरी ने स्मृति ईरानी से जल्द से जल्द मिल को शुरू करने की अपील की है. उन्होंने लिखा कि मिल में काम करने वाले मजदूर लॉकडाउन की वजह से गरीबी से जूझ रहे हैं. उन्होंने अपने पत्र में सरकार के दूसरे राज्यों में जारी मिल को लेकर कार्रवाई का हवाला दिया है. उन्होंने लिखा 'मुझे ऐसा पता चला है कि आपके मंत्रालय के तहत एनटीसी ने तमिलनाडु, केरल और महाराष्ट्र की कुछ मिलों को शुरू करने की पहल की है.' चौधरी ने लिखा ईरानी से पहल का दायरा बढ़ाने की मांग की है.






नीतीश कुमार को दी सलाह
अधीर रंजन चौधरी ने बीते शनिवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को विपक्षी दलों के संपर्क में रहने की सलाह दी है. दरअसल, अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यूनाईटेड के 6 विधायकों ने पार्टी का साथ छोड़ भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है. चौधरी ने ट्विट किया कि नीतीश जी बीजेपी से सावधान रहें, वे शिकार अभियान में पूर्वोत्तर इलाके के जंगली जानवरों के शिकारियों की तरह पहले ही काफी काबिल हैं.

बंगाल में सियासत जारी
पश्चिम बंगाल में 2021 में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसे लेकर पहले ही राज्य में काफी सियासत गरमाई हुई है. केंद्र में सत्ता पर काबिज बीजेपी ने राज्य में अपनी सक्रियता बढ़ानी शुरू कर दी है. एक ओर बीजेपी लगातार राज्य की तृणमूल सरकार पर निशाना साध रही है. वहीं, टीएमसी पार्टी नेताओं के इस्तीफे से जूझ रही है. सीएम ममता बनर्जी सरकार में ट्रांसपोर्ट मंत्री रहे शुभेंदु अधिकारी टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. इसके अलावा कांग्रेस ने भी आगामी विधानसभा चुनाव वाम दलों के साथ लड़ने का फैसला किया है. कांग्रेस नेता चौधरी ने इस बात की जानकारी ट्विटर पर दी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज