Assembly Banner 2021

वैक्सीन लेने के बाद हुई 79 मौतों के पीछे क्या है वजह? AEFI ने किया खुलासा

देश में अभी कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा फेज चल रहा है.

देश में अभी कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा फेज चल रहा है.

Corona vaccine: कमेटी ने जांच में पाया कि कोरोना का टीका बिल्कुल सुरक्षित है. अब तक इस टीके की वजह से एक भी मौत का मामला सामने नहीं आया है. पर ये बात जरूर है कि टीका लेने के बाद देश में 79 मौत हुई है लेकिन इसकी वजह उनकी बीमारी रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 7:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) लेने के बाद अब तक 79 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. इन मौतों के पीछे कोरोना का टीका वजह बताया जा रहा है. अब इस पर स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की एईएफआई कमेटी ने बड़ा खुलासा किया है. AEFI यानि एडवर्स इवेंट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन कमेटी (Adverse Events Following Immunization Committee) ने जांच में पाया कि इन मौतों के पीछे की वजह वैक्सीन नहीं है.

एडवर्स इवेंट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन कमेटी के सलाहकार डॉ. एनके अरोड़ा ने न्यूज18 इंडिया को बताया कि जांच में ये जानकारी सामने आई है कि ज्यादातर मौत का कारण हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक है जिसका संबंध पुरानी बीमारियों से है.

कोरोना की वैक्सीन बिल्कुल सुरक्षित
कमेटी ने जांच में पाया कि कोरोना का टीका बिल्कुल सुरक्षित है. अब तक इस टीके की वजह से एक भी मौत का मामला सामने नहीं आया है. पर ये बात जरूर है कि टीका लेने के बाद देश में 79 मौत हुई है लेकिन इसकी वजह उनकी बीमारी रही है. एडवर्स इवेंट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन के अब तक 16 हज़ार के करीब मामले सामने आए हैं. इसमें 99% से ज्यादा वो मामले हैं जो माइल्ड थे, जिनमें बुखार, हाथ में सूजन और दर्द की शिकायत आई. अधिकारियों का कहना है कि कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद महज 273 लोगों को अस्पताल में दाखिल करवाने की नौबत आई है.
क्या है एडवर्स इवेंट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन कमेटी?


AEFI यानी एडवर्स इवेंट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन कमेटी कोरोना का टीका लेने के बाद होने वाली दिक्कतों का मूल्यांकन करती है. इस कमेटी ने जांच इसलिए की क्योंकि 16 जनवरी से देश मे जब कोरोना के टीके लगने शुरू हुए तो टीका लेने के बाद कुछ लोगों की मौत के मामले सामने आए.

जिसके बाद कमेटी ने जांच किया तो पाया कि वैक्सीन की वजह से किसी की भी मौत नहीं हुई है, ये सुरक्षित है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज