Home /News /nation /

Jammu and Kashmir: काबुल पर तालिबान के कब्जे पर भारतीय सेना का बड़ा बयान, कहा- टेंशन ना लें

Jammu and Kashmir: काबुल पर तालिबान के कब्जे पर भारतीय सेना का बड़ा बयान, कहा- टेंशन ना लें

नियंत्रण रेखा पर तैनात सेना का एक जवान. (फाइल फोटो)

नियंत्रण रेखा पर तैनात सेना का एक जवान. (फाइल फोटो)

Indian Army के Lieutenant General D P Pandey ने कहा कि 'एक बात याद रखें कि यहां (जम्मू और कश्मीर में) सुरक्षा स्थितियां हमारे कंट्रोल में हैं और इस बारे में किसी को चिंतित होने की जरूरत नहीं है.'

    श्रीनगर. भारतीय सेना (Indian Army) ने रविवार को कहा कि कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) में सुरक्षा स्थिति नियंत्रण में है और काबुल पर तालिबान (Taliban) के कब्जे के बाद चिंतित होने की जरूरत नहीं है. आर्मी की 15वीं कोर (चिनार कॉर्प्स) के जनरल कमांडिंग ऑफिसर लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे (DP Pandey) ने श्रीनगर में आयोजित एक कार्यक्रम में यह बात कही. दरअसल, जीओसी पांडे कश्मीर प्रीमियर लीग टूर्नामेंट (Kashmir Premier League Tournament) के फाइनल मैच में चीफ गेस्ट के तौर पर शामिल हुए थे, ये मैच शेर ए कश्मीर स्टेडियम में खेला गया. इसी मौके पर अफगानिस्तान की सत्ता पर तालिबान के कब्जे के बाद कश्मीर में सुरक्षा प्रतिष्ठानों के लिए चुनौतियों से जुड़े एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘ये एक खेल का मैदान है और मैं बाहरी गतिविधियों पर टिप्पणी नहीं करना चाहता. लेकिन, एक बात याद रखें कि यहां सुरक्षा स्थितियां हमारे कंट्रोल में हैं और इस बारे में किसी को चिंतित होने की जरूरत नहीं है.’

    एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक लेफ्टिनेंट जनरल पांडे ने घाटी के युवाओं से खेलों पर ध्यान लगाने की अपील की और उम्मीद जताई कि भविष्य में नीरज चोपड़ा की तरह कश्मीर से भी ओलंपिक गोल्ड जीतने वाले युवा खिलाड़ी निकलेंगे. उन्होंने कहा, ‘आज देश में राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जा रहा है और इस फाइनल मैच के आयोजन के लिए इससे बेहतर दिन नहीं हो सकता था. मैं इस मौके पर युवाओं से अपील करता हूं कि वे खेलों पर ध्यान दें और सिर्फ क्रिकेटर पर फोकस ना करें, ताकि कश्मीर घाटी से भी नीरज चोपड़ा की तरह गोल्ड जीतने वाले खिलाड़ी निकलें.’

    सैन्य अधिकारी ने कहा कि खेल अनुशासन सिखाता है और जम्मू-कश्मीर के जो युवा में खेल में टैलेंट रखते हैं, वे अपने लिए शोहरत और प्रसिद्धि हासिल करने के लिए खेलों में अपना नाम बनाएं. डीपी पांडे ने घाटी के युवाओं को युसुफ पठान से प्रेरणा हासिल करने को कहा, कार्यक्रम में पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर युसुफ पठान भी शामिल हुए थे.

    पांडे ने कहा, ‘मेरी और आपकी तरह पठान भी एक छोटे से गांव निकले और अपनी मेहनत से बुलंदियों को हासिल किया. मैं उम्मीद है कि आप उनसे सीखेंगे और एक बेहतर नागरिक और खिलाड़ी बनने की दिशा में पूरे अनुशासन के साथ आगे बढ़ेंगे और देश का नाम रोशन करेंगे.’ पत्रकारों से बातचीत में पठान में कहा कि जम्मू और कश्मीर में बहुत प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं.

    बता दें कि युसुफ पठान के भाई इरफान पठान को जम्मू और कश्मीर क्रिकेट एसोशिएसन ने केंद्रशासित प्रदेश की क्रिकेट टीम के लिए प्लेयर कम मेंटर के तौर पर नियुक्त किया था. युसुफ पठान ने कहा, ‘मैंने इरफान से इस बारे में जाना है. जम्मू और कश्मीर के दो से तीन लड़के आईपीएल खेल रहे हैं. ये अच्छा संकेत है और यहां काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं. जिस तरह से आर्मी टूर्नामेंट का आयोजन कर रही हैं, और इसमें 200 टीमें हिस्सा ले रही हैं, इसकी तारीफ होनी चाहिए और प्रतिभाओं को बढ़ा दिया जाना चाहिए.’

    पठान ने कहा कि युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए आर्मी बहुत मेहनत कर रही है और इस प्रयास का फायदा मिलेगा. पूर्व क्रिकेटर ने कहा, ‘क्रिकेट को आगे बढ़ाने के लिए लोग बहुत मेहनत कर रहे हैं. हर कोई चाहता है कि यहां आईपीएल मैच, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मैचों का आयोजन हो. जाहिर है कि एक बार इंफ्रास्ट्रक्चर बन जाने के बाद बड़े मुकाबलों का भी आयोजन होगा.’

    Tags: Afghanistan Crisis, Indian army, Jammu and kashmir, Kabul, Lieutenant General D P Pandey, Taliban

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर