असम में फैल रहा अफ्रीकी स्वाइन बुखार, सोनोवाल ने दिया 12,000 सुअरों को मारने का आदेश

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने अफ्रीकी स्वाइन बुखार से बुरी तरह प्रभावित इलाकों में करीब 12,000 सुअरों को मारने का बुधवार को आदेश दिया है (फाइल फोटो)
मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने अफ्रीकी स्वाइन बुखार से बुरी तरह प्रभावित इलाकों में करीब 12,000 सुअरों को मारने का बुधवार को आदेश दिया है (फाइल फोटो)

पशु पालन एवं पशु चिकित्सा विभाग (Animal Husbandry and Veterinary Department) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वायरस (Virus) के कारण अब तक राज्य के 14 जिलों में 18,000 सुअरों की जान जा चुकी है. अधिकारी ने बताया कि सुअरों (Pigs) को मारने का काम 14 प्रभावित जिलों में रोग (Disease) से बुरी तरह प्रभावित 30 क्षेत्रों के एक किलोमीटर के दायरे में किया जाएगा और यह काम तुरंत शुरू किया जाएगा.

  • भाषा
  • Last Updated: September 23, 2020, 10:25 PM IST
  • Share this:
गुवाहाटी. एक ओर कोविड-19 (COVID-19) से निपटने के लिए असम (Assam) को केंद्र सरकार (Central Government) की ओर से संसद में तारीफ गई तो वहीं उसके लिए एक नई समस्या खड़ी हो गई है. असम अफ्रीकी स्वाइन फ्लू (African swine flu) के प्रकोप से जूझ रहा है. मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल (CM Sarbananda Sonowal) ने अफ्रीकी स्वाइन बुखार से बुरी तरह प्रभावित इलाकों में करीब 12,000 सुअरों (pigs) को मारने का बुधवार को आदेश दिया और अधिकारियों से कहा कि वह सुअरों के मालिकों (pig owners) को पर्याप्त मुआवजा दें. एक आधिकारिक वक्तव्य में यह जानकारी दी गई.

पशु पालन एवं पशु चिकित्सा विभाग (Animal Husbandry and Veterinary Department) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि वायरस (Virus) के कारण अब तक राज्य के 14 जिलों में 18,000 सुअरों की जान जा चुकी है. अधिकारी ने बताया कि सुअरों (Pigs) को मारने का काम 14 प्रभावित जिलों में रोग (Disease) से बुरी तरह प्रभावित 30 क्षेत्रों के एक किलोमीटर के दायरे में किया जाएगा और यह काम तुरंत शुरू किया जाएगा.

कोविड-19 संक्रमण से असम में अब तक 578 लोगों की मौत
वहीं दूसरी ओर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि भारत में कोविड-19 जांच की संख्या 6.6 करोड़ के आंकड़े को पार कर गई है और आज की तारीख में प्रति 10 लाख की आबादी पर नमूनों की जांच की संख्या 48,028 हो गई है. इसके साथ ही देश में संक्रमण की दर का आंकड़ा 8.52 प्रतिशत है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि गुजरात, ओडिशा, पंजाब, उत्तराखंड, असम, हरियाणा और त्रिपुरा सहित 14 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोविड-19 के खिलाफ अच्छा काम हो रहा है, जहां संक्रमण की दर राष्ट्रीय औसत से कम है तथा प्रति 10 लाख की आबादी पर जांच की संख्या अधिक है.
मंत्रालय ने कहा कि देश में कोविड-19 जांच क्षमता में काफी वृद्धि हुई है और यह अब हर रोज 12 लाख से अधिक हो गई है. कुल 6,62,79,462 नमूनों की 22 सितंबर तक जांच की जा चुकी है. इनमें से 9,53,683 नमूनों की जांच मंगलवार को की गई.



यह भी पढ़ें: PM ने 7 राज्यों के CM साथ मीटिंग में कहा-कोरोना जागरूकता के लिए रोज 1 घंटा दें

असम में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 159320 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 129130 लोग कोविड-19 संक्रमण को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं. जिसका मतलब यह हुआ कि राज्य में अब भी 30 हजार से ज्यादा कोरोना वायरस के एक्टिव मामले हैं. जबकि अब तक कोरोना के संक्रमण से राज्य में 578 लोगों की मौत भी हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज